जब नितिन गडकरी से पूछा गया ,विधायक और सांसद क्यूँ नहीं देते टोल , जानिए क्या मिला जवाब ।

0
1527

वैसे तो जनता कभी किसी चीज तो कभी किसी चीज का टैक्स देती रहती है और तो और बाहर अगर कही जाओ तो आपको टोल भी भरना पड़ता है लेकिन वही दूसरी और देखा जाए तो नेता , विधायक, मंत्री, सांसद कोई भी टोल नही देता और उन्हें बिना टोल दिये कही भी आने जाने की पूरी सुविधा है| आखिर ऐसा क्यों है कि कोई भी सांसद विधायक बिना टोल दिये कही भी आना जाना कर सकते लेकिन आम जनता नही । अब यही सवाल केंद्रीय सड़क परिवहा एवम राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी से पूछ लिया गया | और इसका जवाब देते हुए नितिन गडकरी ने कहा कि, ‘सरकार ने सेना ,एम्बुलेंस, टैक्टर से माल ले जा रहे किसानों , सांसदो और विधायको को छूट दी है|

लेकिन सबको छूट देना मुनासिब नहीं ‘ उन्होंने कहा कि अगर अच्छी रोड पर जाना है तो पैसा देना होगा| उन्होंने कहा कि पहले लोग ट्रैफिक में थे| पेट्रोल और डीजल पर जो पैसा बर्बाद होता था| अब अच्छे रोड बनने से पैसा बच रहा है तो उसके बदले टोल देने में क्या परेशानी है ? सरकार ने रोड बनाने के लिए पैसे उधार लिया है जो उसे चुकाना है और ब्याज देना है | इसलिए टोल लगाना पड़ता है वहीं अब सरकार देश के छोटे छोटे लोगों के पैसों से सड़क बनाएगी|

उन्होंने आगे इंफ़्राब्रांड की बात करते हुए बोला कि , ‘आप बैंक में पैसा रखते है आपको कितना ब्याज मिलता है , आप रोड बनाने के लिए पैसा दें तो सरकार उस पर ज़्यादा ब्याज देगी। दिल्ली मुंबई हाइवे पर एक लाख करोड़ रुपे खर्च हो रहे है , तो उसके लिए लोगों से बांड के रूप में पैसा लिया जाएगा। उन्होंने आगे कहा कि, देश में 26 ग्रीन एक्सप्रेस हाइवे बन रहे है । दो साल में सड़क के ज़रिए दिल्ली से श्रीनगर 8.5घंटे में पहुँच जाएँगे।