हवाई चप्पल वाला भी कर पाएगा हवाई यात्रा? जानिए इस सवाल पर सिंधिया ने क्या दिया जवाब…

0
1203

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में नागर विमानन सेक्टर का लोकतंत्रीकरण किया है. वहीं, केंद्रीय नागर विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कई ऐसी बातें कहीं जो भविष्य के लिए अच्छी साबित हो सकती हैं.

जब आजतक के कार्यक्रम में मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से पूछा गया कि सरकार की आकांक्षा रही है कि हवाई चप्पल वाला भी हवाई यात्रा कर पाए. क्या यह परिस्थिति आ गई या अभी सपना दूर है? वहीं, इस सवाल के जवाब में मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि 30-40 साल पहले नागर विमानन कुछ चुनिंदा लोगों तक सीमित था. पीएम मोदी ने इसका लोकतंत्रीकरण किया. (UDAN) के द्वारा ऐसा किया जा रहा है. हवाई अड्डे को लेकर उन्होंने कहा कि इस योजना के उद्देश्य से हवाई अड्डे जुड़े हैं जिनका बहुत लोगों ने नाम भी नहीं सुना था, जैसे: दरभंगा, झारसुगुड़ा.

यात्राओं को लेकर उन्होंने कहा कि अभी करीब 14.5 करोड़ लोग हवाई सेना से यात्रा करते हैं जबकि करीब 18 करोड़ लोग रेलवे की एसी सेवा से यात्रा करते हैं. हवाई सफर को रेलवे से जोड़ते हुए उन्होंने कहा कि, आज हवाई टिकट रेलवे के फर्स्ट क्लास एसी से 10 से 15 फीसदी सस्ता है. उन्होंने आगे कहा कि अगले वर्षों में हवाई यात्रा करने वाले ज्यादा हो जाएंगे.

वहीं, एयर इंडिया की बिक्री और उसे टाटा को सौंपने को लेकर वह आगे कहते हैं कि यह प्रक्रिया जल्द ही पूरी हो जाएगी. हर दिन इस पर 20 करोड़ रुपए टैक्सपेयर्स का पैसा जा रहा था, इसमें 60 हजार करोड़ रुपए का कर्ज था. इसलिए सरकार ने सबके फायदे के लिए एक महत्वपूर्ण और साहसी कदम उठाया है.

वहीं, कांग्रेस को घेरते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस के राज में 10 साल 25 सरकारी कंपनियों का विनिवेश हुआ था. 99 हजार करोड़ रुपए का जिन्होंने विनिवेश किया आज इसका विरोध कर रहे हैं. इसके अलावा कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रोन को लेकर उन्होंने कहा कि हमें ऐसी चुनौतियों के लिए तैयार रहना चाहिए. अभी दुनिया में जिनोम सीक्वेंसिंग के आधार पर इसकी तहकीकात हो रही है लेकिन हमें इसके लिए सावधान रहना चाहिए.