क्या हुआ जब योगी आदित्यनाथ से पूछा गया कि ताजमहल भारतीय संस्कृति का प्रतीक चिन्ह है या नहीं ?

Date:

Follow Us On

2022 के चुनाव सर पर और इसी बीच एक अजीब हलचल के बीच CM योगी आदित्यनाथ का एक पुराना इंटरव्यू वायरल हो रहा है। ABP के कार्यक्रम में योगी से ताज महल को लेकर सवाल किया गया था, ‘ताज महल को लेकर सवाल करना है, लेकिन आप सवाल सुनने से पहले ही मुस्कुराने लगे। पिछले दिनों आपने कहा कि ये ताज महल को प्रतीक चिन्ह के रूप में देखते हैं, लेकिन असल में ऐसा नहीं है। आपका इस पर क्या कहना है कि आखिर ताज महल भारतीय संस्कृति का प्रतीक चिन्ह है या नहीं?’ इस बात पर CM योगी का जवाब ऐसा था जो की हर किसी को चौंका देगा ।

जब CM योगी से पूछा गया ताजमहल के बारे में , जवाब में योगी आदित्यनाथ ने कहा था, ‘आजादी के बाद देश को कहां लेकर जाना चाहते हैं। भारत के प्रति कृतज्ञता ज्ञापित करनी चाहिए। भारत की ऋषि परंपरा के खिलाफ हम लोग कृतज्ञता ज्ञापित कर रहे हैं। भारतीयों को गर्व होना चाहिए। हमें रामायण की परंपरा, वेदों और पुराणों की परंपरा पर गौरव की अनुभूति होनी चाहिए। हम लोग रामायण और श्रीमद् भागवत गीता मानने वाले लोग हैं। लेकिन इस पर गौरव करने की जगह लोग लज्जित महसूस कर रहे हैं तो मुझे उनकी बुद्धि पर तरस आता है।’ CM योगी का के इस जवाब ने सबक़ ध्यान अपनी और खींचा।

ये बात तो सभी को पता है योगी हिंदुत्व के समर्थक है उनके पहले भी बहुत से बयानों में उनका समर्थन देखा जा सकता है उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव को देखते हुए सियासी हलचल भी तेज हो गई है। सभी राजनीतिक दल आने वाले विधानसभा चुनवा के लिए तैयारी कर रहें हैं। भाजपा के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ प्रचार कर रहे हैं। पहले, सियासी गलियारों में बीजेपी के मुख्यमंत्री उम्मीदवार को लेकर आशंकाएं लगाई जा रही थीं। लेकिन गृह मंत्री अमित शाह ऐसी सभी चर्चाओं पर विराम लगा दिया। अमित शाह ने साफ कर दिया कि अगर यूपी में बीजेपी की सरकार बनती है सीएम योगी आदित्यनाथ ही बनेंगे। ऐसा बोल कर अमित शाह ने सब साफ़ कर दिया और अब ये क्लीर है की अगर BJP 2022 के चुनाव जीती तो CM योगी जी ही होंगे।

Share post:

Popular

More like this
Related