भरी सभा में रोने लगीं हेमा मालिनी, जानिए क्या है वजह?

Date:

बॉलीवुड की ड्रीम गर्ल और मथुरा से बीजेपी सांसद हेमा मालिनी हाल ही में पीएम मोदी के प्रयागराज प्रोग्राम के बाद रो पड़ीं. हेमा मालिनी कार्यक्रम से निकलते हुए भीड़ की धक्का-मुक्की में फंस गईं. बता दें कि इस मामलें को देखते हुए सिक्योरिटी ने मोर्चा संभाला और हेमा मालिनी को सुरक्षित बाहर निकाला.


आपको बता दें कि इस दौरान हेमा मालिनी से बीजेपी MLC सुरेंद्र चौधरी मिलने की जिद करने लगे और पुलिस से भिड़ गए. दरअसल, पुलिस ने उन्हें हेमा मालिनी से मिलने से रोक दिया था. इस पर भड़के सुरेंद्र चौधरी ने कहा कि, ‘वह हीरोइन ही तो है मिलने में क्या दिक्कत है?’ हालांकि, सिक्योरिटी में तैनात पुलिस अफसरों ने उन्हें समझाया कि वह किसी को भी अंदर नहीं जाने दे सकते हैं. वहीं, उन्होंने अपनी जिद नहीं छोड़ी. उन्होंने कहा कि, हेमा मालिनी हमारी सांसद है इसलिए मिलना चाहते हैं.


वहीं, प्रयागराज में हुए पीएम मोदी के कार्यक्रम के बारे में आपको बताएं तो बीजेपी सांसद हेमा मालिनी ने मंच पर जनता का राधे-राधे कहकर अभिवादन किया, जिसके बाद परेड मैदान में बैठी ढाई लाख महिलाओं ने भी राधे राधे नाम लिया. महिलाओं को लेकर हेमा मालिनी ने कहा कि, पीएम मोदी ने नारी को नारायण मानकर काम किया है. आज नारी घर चला सकती है तो देश भी चला सकती है. संसद में महिला सांसदों की संख्या पहले के मुकाबले बहुत ज्यादा है जिसमें बीजेपी नंबर वन है.


हेमा मालिनी आगे कहती हैं कि, देश बदल रहा है जो पिछली सरकारों में 60 सालों में नहीं हुआ वो केवल 7 सालों में बीजेपी की सरकार में हुआ है. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने नारी को नारायण मानकर ही काम किया है और डॉक्टर अंबेडकर के सपनों को साकार किया है. वहीं, हेमा मालिनी आगे कहती हैं कि, मथुरा में भी वाराणसी के काशी विश्वनाथ की तर्ज पर कॉरिडोर होना चाहिए. इसकी मांग सरकार के समक्ष उठाई जा चुकी है.


बताते चलें कि बीते दिनों महाराष्ट्र में शिवसेना नेता गुलाबराव पाटिल ने हेमा मालिनी के गाल से सड़कों की तुलना की थी जिस पर महिला आयोग ने एक्शन लेकर माफी की मांग की थी. हालांकि, उन्होंने अपने इस बयान के लिए माफी भी मांगी थी. वहीं हेमा मालिनी का कहना था कि ऐसे बयानों का चलन लालू जी के समय से हुआ है.

Share post:

Subscribe

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related