ये शख्स भारत में फोड़ना चाहता था कोरोना ब’म, आया पुलिस की गिरफ्त में, सामने आई इसकी सच्चाई

13731

बीते दिनों एक खुलासा हुआ था कि नेपाल के रास्ते कोरोना संक्रमित लोगों को भारत भेजा जा रहा है ताकि वो त’बाही मचा सकें. इसका आरोप जालिम मुखिया नाम के शख्स पर लगा था. उसे अब नेपाल पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. नेपाल पुलिस के अनुसार उसने जमातियों को पनाह दी हुई थी. ये सभी जमाती निजामुद्दीन के मरकज से लौटे थे. इनकी संख्या 24 है और इनमे से तीन कोरोना पॉजिटिव हैं.

जालिम मुखिया ह’थि’यारों का त’स्क’र है. वो ह’थिया’रों को बॉर्डर पार करा कर भारत में भेजता है. नेपाल के जिला पारसा के जग्रनाथपुर गांव का रहने वाला जालिम मुखिया उस गाँव का मेयर भी है. जालिम मुखिया कई मा’ओ’वादी संगठनों का सदस्य रह चूका है. वर्तमान में वो नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी का सदस्य है. पिछली बार हुए नेपाल के चुनाव में उसने प्रमुख भूमिका निभाई थी. उसका गाँव बिहार के बेतिया जिले के सिकटा इनरवा सीमा से लगा हुआ है.

बीते दिनों बिहार के पश्चिमी चंपारण जिले के जिलाधिकारी कुंदन कुमार का एक पत्र सामने आने के बाद खुलासा हुआ था कि सीमा पार से कुछ लोग भारत और खासकर बिहार में रणनीति के तहत कोरोना वायरस का संक्रमण फैलाना चाहते हैं. इसका आरोप जालिम मुखिया पर ही लगाया गया था. जिलाधिकारी ने सीमा पर सुरक्षा बढाने और सघन जांच अभियान चलाने का भी आग्रह किया था.