मलेशिया में बैठ कर क’ट्टरपं’थी जाकिर नाइक ने दिया भारत के खिलाफ भ’ड़का’ऊ ब’यान

1081

ध’र्म को लेकर देश में ज्यादातर माहौल त’नाव भरा बना ही रहता है. कोई न कोई ध’र्म को लेकर लोगो के बीच फू’ट डालने का कम करता ही रहता है. जिसका नतीजा सभी को भु’गतना पड़ता है. ऐसा ही कुछ फिर से हुआ है. मु’स्लिम कट्टरपंथी जाकिर नाइक ने एक बार फिर वि’वादित बयान देकर माहौल को ख़’राब करने की कोशिश की है.

दरअसल हुआ यह है कि जाकिर नाइक मलेशिया में बैठे कर ध’र्म के नाम कर जह’र उग’ल रह है और लोगो को बरग’लाने का काम कर रहा है. बता दें जाकिर नाइक क एक वीडियो जम कर ट्रें’ड कर रहा है. जिसमें जाकिर कह रहा है कि मैंने सुना है कि कुवैत के एक वकील ने लोगों से कहा कि अगर खाड़ी देश में कोई गै’र-मु’स्लिम अगर इस्ला’म की बु’राई करता है तो उसकी सूचना उस तक पहुंचाई जाए, उन्हें कानून के दा’यरे में लाया जाएगा.

जिस पर जाकिर वकील की तारीफ करते हुए कहता है कि उसे भारत में भी उन गै’र-मु’स्लिमों का एक डे’टाबेस तैयार करना चाहिए जो इ’स्लाम पर उंग’ली उठाते हैं.इसके अलावा उसने यह भी कहा कि भारत में इ’स्लाम पर उं’गली उठाने वाले मुख्य रूप से बीजेपी से जुड़े लोग हैं और उनमें से ज्यादातर लोग पैसे वाले हैं. जाहिर है जाकिर का ये वीडियो ऐसे समय पर सामने आया है जब देश पहले ही कोरोना के सं’कट से घि’रा हुआ है. ऐसे में हाला’तों को और ख़राब करने के उ’द्देश्य से जाकिर का यह वीडियो आ’ग में घी डालने का काम कर रहा है.

इसके अलावा जाकिर ने यह भी कहा कि अगर ऐसा 5 से 10 लोगों के साथ हुआ तो ज्यादातर लोग इ’स्लाम पर उं’गली उठाना छोड़ देंगे और जो नहीं भी समझेंगे तो उसमे से 25 % लोगो में ड’र आ जायेगा और वो इस्ला’म के खि’लाफ नहीं बोलेंगे फिर. जाहिर है जाकिर के इस बया’न से देश में त’नाव की स्थि’ति बन सकती है और यह ब’यान हाला’तों को और ख़राब करने करने और अशां’ति फ़ैलाने के उ’देश्य से ही दिया गया है.