योगी सरकारअब इस शहर का बदलने जा रही है नाम

3440

 फैजाबाद, मुग़लसराय और इलाहाबाद का नाम बदलने के बाद उत्तर प्रदेश की योगी सरकार एक और शहर का नाम बदलने की तैयारी कर रही है. वो शहर है बस्ती. बस्ती का नाम बदल कर वशिष्ठ नगर करने की तैयारी हो रही है. अयोध्या के पास ही है बस्ती जिला. माना जाता है कि गुरु वशिष्ठ के नाम से ही बस्ती जिले का नाम अस्तित्व में आया. बस्ती के डीएम ने राजस्व विभाग को प्रस्ताव भेजा है. जल्द ही कैबिनेट में नाम बदलने का प्रस्ताव आ सकता है. योगी सरकार इससे पहले फैजाबाद का नाम बदल कर अयोध्या और इलाहाबाद का नाम बदल कर प्रयागराज कर चुकी है, जबकि मुगलसराय का नाम पंडित दीनदयाल उपाध्याय नगर किया जा चूका है. कई बार सुनने में आया है कि आगरा का नाम भी बदला जा सकता है.

 इन दिनों प्रयागराज माघ मेला चल रहा है, जिसमे बड़ी संख्या में साधु संत हिस्सा ले रहे हैं. साधु संतों का कहना है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश में उन सभी शहरों के नाम बदले, जिनके नाम मुस्लिम मालूम पड़ते हैं. बस्ती जिले का नाम बदलकर वशिष्ठ नगर करने के प्रस्ताव का स्वागत करते हुए, संतों ने कहा है कि राज्य में बड़ी संख्या में शहरों के नाम बदलकर मुगल शासकों द्वारा रखा गया था और इन शहरों को उनके मूल नाम वापस दिए जाने चाहिए.

अखिल भारतीय दंडी स्वामी परिषद के स्वामी महेशाश्रम महाराज ने कहा, “प्रयागराज को इलाहाबाद बना दिया गया और योगी आदित्यनाथ ने इसे वापस प्रयागराज में बदल दिया है. इसी तरह, अन्य शहरों को उनके मूल हिंदू नामों को वापस दिया जाना चाहिए, हमारे पास एक ऐसी सरकार है, जो हिंदुओं द्वारा संचालित है और हिंदुओं की है.”