योगी आदित्यनाथ ने त’बलीगी जमा’त पर जमकर बोला ह’मला, कही ये बड़ी बात

1167

देश कोरोना जैसी महामारी से लड़ रहा हैं. देश में एक वक़्त पर कोरोना के ऊपर काफी कण्ट्रोल हो चूका था. लेकिन फिर पता नहीं कहा से ये त’बलीगी जमा’त के जाहिल लोग आये और इन्होने कोरोना को पूरी तरह देश में फैलाने का काम किया. आज देश में इतने ज्यादा के’स सिर्फ कोरोना की वजह से बढ़ गए हैं. त’बलीगी जमा’त को लेकर आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी अद्तियानाथ ने भी जमकर ह’मला किया हैं और उन पर एक्शन लेने की बात भी कही हैं.

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ‘जमा’तियों ने बीमारी को छिपाया है. ये जानबूझकर किए गए कृत्य हैं, जोकि अ’क्षम्य अ’पराध हैं. अगर इन्होंने बीमारी ना छुपाई होती तो आज कम से कम कोरोना के’स होते हमारे देश में. सीएम योगी ने यह भी कहा कि हम इन लोगों के खि’लाफ कार्र’वाई जरूर करेंगे’.


उत्तर प्रदेश में कोरोना फैलाने का सीधा इल्जाम योगी ने तबलीगी जमा’त के लोगों पर लगया हैं. उन्होंने कहा, ‘जमा’तियों के अंदर कोरोना पॉजिटिव था उसके बाद भी उन्होंने इस बीमारी को छुपा कर रखा और अब ये बिमारी वो लोगों में फैला रहें हैं. जो की एक बहुत बड़ा अ’पराध हैं. योगी ने बताया कि आज हमारे पास लगभग 1600 ऐक्टिव के’स हैं, इसमें 1000 से ज्यादा तब’लीगी से जुड़े लोग हैं.

योगी आदित्यनाथ ने कोरोना फ़ैलाने का इल्जाम त’बलीगी जमा’त पर लगाते हुए ये भी कहा कि त’बली’गी जमा’त को इस कार्य के लिए छो’ड़ा नहीं जायेगा. कोरोना फैलाना एक तरह का अ’पराध हैं और अपरा’ध करने वालों को स’ज़ा देना जरूरी हैं.

कोरोना फैलाने का आ’रोप लगाते हुए सीएम योगी ने कहा, ‘पूरे देश के अंदर जिन राज्यों में ज्यादा पैमाने पर मामले आए वहां इनकी भूमिका बहुत थी. विदेश से आए, टूरिस्ट वीजा लिया और घूमने लगे. सामान्य व्यक्ति मानता है कि टूरिस्ट है तो ठीक होगा लेकिन वे गांव-गांव, घर-घर जाकर संक्र’मण फैलाएं तो यह ठीक बात नहीं थी. यह तो केंद्र और राज्य सरकार का अलर्टनेस था कि स्थिति संभाल ली गई. वरना ये त’बलीगी जमा’त के लोगों तो तबा’ही मचाने की पूरी तैयारी कर रखी थी.’

योगी ने आगे कहा कि जिन लोगो ने कोरोना वोर्रिएर पर हम’ला किया या उनके साथ अश्लीलता की उन सबके उपर भी कार्य’वाई की जाएगी किसी को भी माफ़ नहीं किया जायेगा. योगी ने बताया कि ‘हम बिना भेदभाव के गरीब कल्याणकारी योजनाएं चला रहे हैं. हर व्यक्ति को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा देने का प्रयास हो रहा है. हमें सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा और और अपने प्रदेश को इस महामारी से हम सबको मिल कर बचाना होगा.