गृह मंत्राल्य के बाद अब योगी सरकार ने शराब की बिक्री को लेकर जारी किया नया आदेश

3545

लॉकडाउन को और आगे बढ़ा दिया गया हैं. लॉक डाउन थ्री को लेकर गृह मंत्राल्य ने तीन जोन बनाया है. ग्रीन,ऑरेंज,रेड. गृह मंत्राल्य ने तीसरे लॉक डाउन को लेकर जोन के हिसाब से छूट भी दे रखी हैं. जिसमे की शराब की दुकानों को लेकर भी मांग थी कि उनको खोला जाये. तो गृह मन्त्रालय ने उसको लेकर भी इस बार खोलने के आदेश दिए हैं लेकिन कुछ शर्तों के साथ. योगी आदित्यनाथ ने भी शराब की दुकाने खोलने विचार कर रहें हैं.

लॉकडाउन थ्री को लेकर दी जा रही रियायतों में उत्तर प्रदेश में शराब की दुकानें खुलेंगी या नहीं, इस पर फिलहाल अभी कोई भी निर्णय नहीं हुआ है. आबकारी आयुक्त पी गुरुप्रसाद का कहना है कि ‘पहले सरकार अपनी विस्तृत गाइडलाइन जारी करेगी, उसके बाद निर्णय लिया जाएगा कि शराब की दुकानें खोली जाएंगी या नहीं.  उन्होंने आगे बताया कि केंद्र सरकार के दिशा-निर्देशों के मुताबिक शराब की दुकानें बंद रखने का फैसला लिया गया था. अब सरकार की ओर से जो निर्देश दिए जाएंगे, उनका पालन किया जाएगा.’

तीसरे चरण का लॉकडाउन 4 मई के बाद शुरू होगा. इसमें ग्रीन जोन में लोगों को रियायत ज्यादा मिलेगी. ग्रीन जोन में लोग ऑनलाइन सामान मंगा सकेंगे.  घर बैठे लोग खाने पीने का भी सामना मंगवा सकेंग. इसके अलावा गैर जरूरी वस्तुओं की श्रेणी में आने वाली मोबाइल, फ्रिज, कूलर, टीवी जैसी वस्तुएं भी ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म से मंगा सकेंगे.

ग्रीन जोन के अलावा ऑरेंज जोन में भी लोगों को रियायत दी जाएगी. वहां पर भी कुछ जरुरी दुकाने खोली जा सकती हैं. जिसमे की सैलून खोले जा सकेंगे. ऑरेंज जोन में बसों की भी आवाजाही शुरू होगी लेकिन अपने जिले के अंदर ही. रेड जोन पूरी तरह से बंद रहेगा वहां पर कोई भी रियायत नही दी जाएगी.

अगर बात करें शराब की दुकानों के खुलने की तो कुछ शर्तों के साथ तीनो जोन में दुकाने खोली सकती हैं. लेकिन कंटेनमेंट इलाकों में शराब की दुकानों पर पाबंदी रहेगी. जिन तीन जोन में शराब की बिक्री होगी, वहां पर दुकान एकदम अलग होनी चाहिए और वहां पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाएगा.

शराब की दूकाने मॉल या मार्केट के अंदर नही होनी चाहिए ये बिलकुल अलग होना चाहिए. जो लोग भी शराब लेने आते है. उनको बीच सोशल डिस्टेसिंग का भी ध्यान रखा जाए और दुकान पर एक वक्त में 5 से ज्यादा ग्राहक नही होने चाहिए.