यूपी में छात्रों की बल्ले-बल्ले, योगी सरकार ने इन क्लास के बच्चों को बिना परीक्षा पास करने के दिए निर्देश

देश में कोरोना के कहर के चलते सरकारों की नींद उड़ी हुई है. केंद्र सरकार और राज्य सरकारें इस महामारी से निपटने के लिए एक के बाद एक बड़े कदम उठा रही हैं. जिससे कैसे भी करके इस महामारी से बचा जा सके. देश के प्रधानमंत्री ने लगातार बिगड़ रहे हालात के चलते समय पर 21 दिन का लॉकडाउन कर दिया नहीं तो आज परिणाम और भी भयावह हो सकते थे लेकिन विदेश से आए कोरोना संदिग्ध और जमातियों ने छिपकर सरकार को मुश्किल में डाल दिया है. लॉकडाउन को अब 3 मई तक बढ़ा दिया गया है.

जानकारी के लिए बता दें देश की लगातार बिगड़ती स्थिति को रोकने के लिए एक मात्र लॉकडाउन करना ही मज़बूरी थी. सरकार ने लॉकडाउन के मायने बताते हुए कहा कि लॉकडाउन की वजह से ही आज भारत की स्थिति अन्य देशों के मुकाबले काफी बेहतर है. वहीं सरकार के इस कदम के बाद उत्तरप्रदेश से बड़ी खबर आ रही है.

उत्तरप्रदेश में लॉकडाउन बढ़ने के चलते अब परीक्षाओं और रिजल्ट को लेकर सरकार के सामने संकट आ गया है. इसी बीच सरकार ने कई क्लास के बच्चों को लेकर बड़ा कदम उठाया है.योगी सरकार ने कक्षा 6,7,8,9 और 11 वीं क्लास के बच्चों को अगली कक्षा के लिए प्रमोट कर दिया है. लॉकडाउन के चलते इन क्लास के छात्रों की बल्ले-बल्ले हो गयी है. योगी सरकार कोरोना वायरस के चलते एक के बाद एक बड़े कदम जनता को लेकर उठा रहे हैं.

गौरतलब है कि योगी सरकार ने लॉकडाउन से उत्पन्न परिस्थितियों को देखते हुए ये महत्वपूर्ण फैसला किया है. परिषद् की ओर से ये आदेश सभी जिला विद्यालय निरीक्षकों को दे दिया गया है. अब कक्षा 6,7,8,9 और 11 वीं क्लास के बच्चे आगे की क्लास में पढ़ाई जारी कर सकेंगे. बता दें पिछले काफी समय से जब से लॉकडाउन हुआ है तभी से ही सभी स्कूल कॉलेजों को बंद कर दिया गया है. इतना ही नही जो परीक्षा अप्रैल के अंत तक होनी थी उन्हें भी 3 मई तक टाल दिया गया है.