सुबह 3 बजे जब हम चैन से सो रहे थे तब योगी सरकार पत्थ’रबाजों को ऐसे सिखा रही थी सबक

7430

कोरो’ना की वजह से आज देश के अंदर हा’हाका’र मचा हुआ है.वहीं उत्तर प्रदेश सरकार दिन रात कोरो’ना से जं’ग जीतने में लगी है. कोरो’ना को हराने के लिए सभी डॉक्टर नर्स भी दिन रात मेहनत कर रही है. ये सब लोग अपने घर परिवार की चिंता को छोडकर आज अपना फर्ज निभा रही है. लेकिन कुछ लोग अपनी आदत से बाज़ नही आ रहे है. उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में डॉक्टर की टीम पर ता’बड़तो’ड़ तरीके से  प’थरा’व किया गया. जिसमे कई डॉक्टर घा’यल भी हो गए. जिसके तुरंत बाद योगी सरकार एक्शन में आ गई.

योगी सरकार ने मुरादाबाद में कोरो’ना से जं’ग में दिन-रात जुटे चिकित्सकों और पुलिसकर्मियों की टीम पर ता’बड़तो’ड़ पत्थर बरसाने के आ’रोपी 17 पत्थ’रबा’जों के लिए सुबह तीन बजे अदालत बैठी. सुनवाई हुई और अदालत ने इन सभी को 14 दिन की न्यायिक अभि’र’क्षा में भेज दिया. सुबह सवा पांच बजे इन सभी को जे’ल की स’लाखों के  पीछे पहुंचा दिया गया. इस काम में पुलिस व प्रशासनिक अमला रात भर जुटा रहा. ऐसा कम ही देखने में आता है कि इतनी सुबह अदालत किसी मामले को सुने. पर यह मामला था ही इतना गंभीर. 

गौरतलब है कि थाना नागफनी के मुहल्ला नवाबपुरा में बुधवार को चिकित्सकीय एवं पुलिस टीम पर उस समय जमकर पथराव हुआ जब यह टीम यहां लोगों को क्वारंटीन करने के लिए लेने गई थी. इसी मुहल्ले के एक व्यक्ति की कोरो’ना से मौ’त हो चुकी है और उसी के संपर्क के लोगों को क्वारंटीन किया जाना था. इस पथ’राव में एक डॉक्टर,फार्मेसिस्ट समेत छह स्वास्थ्य कर्मी घा’यल हो गए और पुलिसकर्मियों को भी चो’टें आईं.

योगी अपने फैसले के लिए जाने जाते है और उन्होने मुरादाबाद में जो कां’ड हुआ उस पर आनन फानन में सभी आ’रोपि’यों पर के’स दर्ज हुआ और उन्हे सलाखों के पीछे डाल दिया गया है. योगी को कहना है कि अगर किसी ने कोई भी गलत काम किया तो उसको छो’ड़ेंगे नही और कुछ ऐसा ही नज़ा’रा योगी आज पेश करते हुए नज़र भी आ रहे है.