15 अप्रैल को यूपी में दी जाने वाली छूट को लेकर योगी सरकार ने वापस लिया ये बड़ा फैसला !

देश में लगातार बढ़ रहे कोरोना के प्रभाव के चलते सरकार ने 21 दिन के लिए पूरे देश में लॉकडाउन लागू किया था, जोकि 14 अप्रैल तक था लेकिन हालात ठीक होते हुए नही दिखे तो पीएम मोदी ने अब इसे 3 मई तक आगे बढ़ाने का फैसला लिया है. उन्होंने लॉकडाउन के जनता को फायदे बताये. पीएम मोदी ने बताया कि सही समय के चलते लॉकडाउन लागू न किया होता तो आज परिणाम भयवाह हो सकते थे.

जानकारी के लिए बता दें केंद्र सरकार द्वारा बढ़ाये गये लॉकडाउन से पहले योगी सरकार 15 अप्रैल से कंस्ट्रक्शन के काम सहित कई चीजों में रियायत देने का ऐलान कर चुकी थी. वहीँ जब लॉकडाउन को ३ मई तक के लिए बढ़ा दिया गया तो यूपी सरकार ने भी अपना यू-टर्न मार लिया है. सरकार ने बड़ा झटका देते हुए 15 अप्रैल से दी जाने वाली रियायतों को स्थगित कर दिया है.

लॉकडाउन के फैसले से पहले डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने 15 अप्रैल से निर्माण कार्यों को फिर से शुरू करने का फैसला लिया था जिसे अब स्थगित कर दिया गया है. यूपी सरकार अब केंद्र सरकार की गाइडलाइन का इंतजार कर रही है.

गौरतलब है कि कोरोना की महामारी से बचने के लिए योगी सरकार एक के बाद एक करके ताबड़तोड़ फैसले ले रही है. जिससे वह अपने राज्य की जनता को इस बीमारी से बचा जा सके. साथ ही योगी सरकार गरीबों के खाते में भी सहायता राशि जमा कर चुकी है. जल्द ही सीएम योगी अब फिर से बैठक करके और केंद्र सरकार की गाइडलाइन आने के बाद ढील को लेकर फैसला ले सकते हैं.