योगी सरकार चौथे बजट में तीन तलाक पी’ड़िता’ओं को लेकर कर सकती है ये बड़ा ऐलान

611

उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री सीएम योगी आदित्यनाथ जबसे सत्ता में आए तभी से उन्होंने आते ही ताबड़तोड़ फ़ैसले लिए थे. जिनमें से उनके कुछ फ़ैसले तो ऐसे थे जिनकी आज भी चर्चा होती है. सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश की कानून व्यवस्था को सुधारने के लिए अपराधियों को सख्त आदेश दिया था कि वह या तो आत्मसमर्पण के लिए तैयार रहें या फिर एनकाउंटर को. वहीं सीएम योगी ने सूबे की हालत को सुधारने के लिए कई बड़े कदम भी उठाये थे. अब योगी सरकार अपना चौथा बजट पेश करने जा रही है.

जानकारी के लिए बता दें उत्तरप्रदेश के वित्त मंत्री सुरेश कुमार खन्ना आज 18 फरवरी को विधानसभा में योगी सरकार का चौथा बजट पेश करने जा रहे हैं. बताया जा रहा है कि सरकार इस बजट में 5.12 लाख करोड़ रूपये की योजनाओं का ऐलान कर सकती है. चालू वित्त वर्ष 4.79 लाख करोड़ था जोकि अनुपूरक के साथ बढ़कर 4.97 हजार करोड़ रूपये पार कर गया है.

योगी सरकार के चौथे बजट को लेकर सबसे बड़ी खबर ये आ रही है कि सरकार इस बजट में तीन तलाक से पीड़ित महिलाओं को लेकर बड़ा ऐलान कर सकती है. दरअसल मोदी सरकार ने सत्ता में आने के बाद से ही तीन तलाक के मुद्दे पर ख़ास ध्यान दिया और मुस्लिम महिलाओं पर होने वाले अत्याचार को ध्यान में रखते हुए इस मुद्दे पर कानून ला दिया. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि योगी सरकार ने तीन तलाक पीड़िताओं 500 रूपये प्रति महिना यानी कि 6 हजार रूपये साल देने की परियोजना बनाई है.

गौरतलब है कि यूपी सरकार ने इस बजट में सभी परित्य्वक्त महिलाओं के पेंशन देने की योजना बनाई है. इसके लिए सरकार ने 500 करोड़ रूपये से अधिक धनराशी का प्रावधान किया है. वहीं सरकार के इस बजट में युवाओं को नौकरी से लेकर स्वरोजगार संबंधी योजनाओं पर फोकस रखने की उम्मीद जताई जा रही है. सबसे खास बात ये है कि योगी सरकार तीन तलाक से पीड़ित महिलाओं के लिए बड़ा कदम उठाने जा रही है.