योगी सरकार ने पेट्रोल-डीजल और शराब को लेकर किया ये बड़ा ऐलान

1319

लॉकडाउन का तीसरा चरण लागू होने के बाद आज उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक बड़ा फैसला लिया हैं. लॉकडाउन 3 में शराब दुकानों को खोल दिया गया. जिसके बाद पहले ही दिन उत्तर प्रदेश को 300 करोड़ की आमदनी हुई. दिल्ली और आंध्र प्रदेश सरकार ने शराब पर कोरोना टैक्स लगा कर दामों में 70 प्रतिशत और 75 प्रतिशत की बढ़ोतरी कर दी. अब आशंका जताई जा रही है कि राजस्व बढाने के लिए योगी सरकार भी शराब पर टैक्स बढ़ा सकती है.

आज कैबिनेट मीटिंग के दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में इजाफा किया है. इसके साथ ही योगो सरकार ने शराब के दामों भी भी इजाफा कर दिया हैं. इन सबके रेट बढ़ाने के लिए योगी कैबिनेट हामी भर दी हैं और ये भी बताया गया हैं कि बढ़ी हुए कीमत तत्काल प्रभाव से लागू कर दी जाएँगी. ये फैसला राजस्व की कमी को देखते हुए किया गया हैं.

आपको बता दें की उत्तर प्रदेश सरकार ने कितने रुपये बढ़ाये गए हैं. योगी कैबिनेट ने कोरोना को देखते हुए पेट्रोल की कीमतों में 2 रुपये और डीजल की कीमतों में एक रुपये की बढ़ोतरी की गई है. अब प्रदेश में पेट्रोल की कीमत 73.91 रुपये प्रति लीटर कर दी गई है, जो पहले 71.91 रुपये थी. वहीं डीजल की कीमत 63.86 रुपये प्रति लीटर कर दी गई है, जो पहले 62.86 रुपये थी.

हालाँकि देसी शराब की कीमत में 5 रुपये का इजाफा किया गया हैं. वहीँ दूसरी तरफ अंग्रेजी शराब में 180 एमएल पर 10 रुपये, 180 एमएल से 500 एमएल तक 20 रुपये और 500 एमएल से ऊपर 30 रुपये की वृद्धि की गई है. सोमवार से ही यूपी में शराब की दुकानें खोली गई थी और पहले दिन करीब 100 करोड़ रुपये की शराब बिकी थी.ये कदम योगी कैबिनेट ने राजस्व में कमी को देखते हुए उठाया हैं क्योकि कोरोना की वजह से प्रदेश की इकॉनमी रेंग रही थी और प्रदेश को राजस्व मिले इसी को देखते हुए शराब की दुकाने भी खोली गई और आज उसपर रेट भी बढ़ा दिया गया हैं.