छात्रों के लिए योगी सरकार ने उठाया ये बड़ा कदम, जल्द मिलेगी राहत

722

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कोरोना से लड़ने के लिए जीजान से लगे है. योगी ने कोरोना में फंसे अपने प्रदेश के बच्चों से लेकर मजदूरों तक उनको उनके घऱ तक वापस ले आयें है. कोरोना से जं’ग जीतने के लिए योगी आए दिन कोई न की दमदार फैसला लेते रहते है.  

दूसरी तरफ योगी आदित्यनाथ ने एक और फैसला लेते हुए कहा कि परेशान ना हो शिक्षार्थी, दो दिनोकोटा (राजस्थान) के हजारों छात्रों को अपने घरों तक पहुंचाने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अब प्रदेश के उन छात्रों को भी उनके घर पहुंचाएंगे जो प्रयागराज में अध्ययनरत हैं. उन छात्रों को योगी वापस लाने की तैयारी में है जो प्रयागराज में पढाई कर रहें हैं.

सीएम योगी ने प्रयागराज में प्रदेश के अन्य जिलों के रहने वाले छात्रों को उनके गृह जनपद में पहुंचाने का आदेश जारी किया है. जिससे करीब 10 हजार छात्रों को 300 बसों से उनके गृह जनपद तक पहुंचाया जाएगा. इसके अलावा प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत करने के लिए हर जिलें में 15,000 से 25,000 क्षमता के क्वारंटीन सेंटरों के निर्माण का निर्देश भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दिया है.

अपर मुख्य सचिव, गृह ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश के बाद हरियाणा से अबतक 12,200 श्रमिकों को यूपी लाया गया है. उन्होंने बताया कि इस कार्य के लिए 328 बसों को लगाया गया है. 26 अप्रैल को प्रदेश के चार बार्डर पर 9992 श्रमिकों को लाया गया. जिसमें सहारनपुर के बार्डर पर 74, शामली के बार्डर पर 55 इसी तरह बागपत के बार्डर पर 47, मथुरा के बार्डर पर 63 और बुलंदशहर के लोग है.

योगी आदित्यनाथ ने बताया है कि जितने भी श्रमिक हरियाणा से लाये गए और जहा से भी वपस आये हैं उन सबके लिए क्वारंटाइन सेण्टर बनाये गए हैं उनको वहां पर 14 दिनों के लिए रखा जायेगा और उसके बाद उनको उनके गृह जनपद भेजा जायेगा.