पीएम मोदी द्वारा राम मंदिर के लिए ट्रस्ट के ऐलान के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बड़ा ऐलान किया है. उन्होंने कोर्ट के आदेश पर अयोध्या में नई बाबरी मस्जिद के लिए 5 एकड़ जमीन देने का ऐलान कर दिया. योगी आदित्यनाथ ने ऐलान किया कि मुसलमानों को नई मस्जिद के लिए अयोध्या के सोहावल तहसील के धन्नीपुर गांव में सुन्नी वक्फ बोर्ड को जमीन देने का फैसला किया गया है.

जिस इलाके में नई मस्जिद के लिए जमीन दी गई है वो अयोध्या जिला मुख्यालय से 18 किलोमीटर दूर है. सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थनाथ सिंह ने बताया कि आज 5 एकड़ जमीन का प्रस्ताव पास हो गया है. हमने 3 विकल्प केंद्र को भेजे थे, जिसमें से एक पर सहमति बन गई है. मस्जिद के लिए धन्नीपुर में जमीन दी जाएगी. यह मुख्यालय से 18 किलोमीटर दूर है.

दूसरी तरफ केंद्र सरकार ने भी राम मंदिर के निर्माण को गति देने के लिए पीएम मोदी ने संसद में राम मंदिर के लिए ट्रस्ट का ऐलान किया. संसद में ऐलान करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि “अयोध्या में राम मंदिर बनाने के लिए हमने एक योजना तैयार की है। इसके लिए एक ट्रस्ट बनाया गया है जिसका नाम ‘श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र होगा.’ अब उनके इस ऐलान के बाद जल्द ही निर्माण कार्य शुरू हो सकता है. पीएम मोदी ने कहा कि सरकार ने अयोध्या कानून के तहत 67.70 एकड़ भूमि राम जन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र को हस्तांतरित करने का फैसला लिया है.