योगी आदित्यनाथ ने दं’गा’इयों को दी चेतावनी, अगर दं’गा किया तो किसी भी दं’गाई को…

12779

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हमेशा से अपने काम को लेकर और एक हिन्दूत्व की छवी के लिए जाने और पहचाने जाते है. योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में नागरिकता संशोधन को लेकर योगी ने कई कड़े आदेश जारी कर के लोगों को एक संदेश दिया था. और जिन उप’द्रवी’यों ने उत्तर प्रदेश को ज’लाने की कोशिश की थी उनके खिलाफ भी कड़ी कार्य’वाई करने का ऐलान कर दिया था. उनके इस फैसले से विप’क्षी पार्टी में हलचल मच गई थी.कुछ दिन पहले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मांग की थी कि जो लोग दं’गा करते वक्त श’हीद हुए है. उनके परिवार को मुआवजा दिया जाना चाहिए. इसके जवाब में योगी ने विधानसभा में अखिलेश की बात का जवाब दिया.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी अदित्यनाथ ने विधानसभा में बताया है कि ‘राज्य सरकार का ऐसा कोई प्रा’वधा’न नहीं है, जिससे पिछले 6 महीने में दं’गे में म’रने वाले लोगों के परिवारों को मुआवजा दिया जा सके’ उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा, ‘मु’आ’वजा देने का सवाल ही नहीं पैदा होता है.’ सीएम योगी ने सदन को जानकारी दी कि पिछले 6 महीने में दं’गों और वि’रोध प्रद’र्शनों में 21 लोगों की मौ’त हो गई.

सीएम योगी ने आगे बताया, ‘प्रद’र्शनका’रियों की पत्थ’रबा’जी में 400 पुलिसकर्मी घा’यल हो गए, जबकि 61 पुलिसवालों को गो’लि’यां लगी हैं.’ पुलिसवालो को लेकर विप’क्ष क्यो कुछ नही बोलता है. क्या वो इंसान नही थे. सरकार ने दावा किया है कि 19-20 दिसंबर को नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के वि’रोध में हो रहे प्रद’र्शनों के दौरान भ’ड़के दं’गों में मा’रे गए 21 लोगों में से किसी की भी मौ’त पुलिस की गो’लि’यों से नहीं हुई है. पिछले हफ्ते सीएम योगी ने बताया था कि मौ’त दंगा’इयों के हाथों’ ही हुई थी.

दरअसल सीएम योगी मंगलवार को समाजवादी पार्टी विधायक राकेश प्रताप सिंह के सवाल का जवाब दे रहे थे. सिंह ने विधानसभा में पिछले 6 महीने में जो उत्तर प्रदेश में दं’गे हुए थे. उससे जुड़ी घट’नाओं में मा’रे गए लोगों की संख्या को लेकर सवाल किया था. उन्होंने यह भी पूछा था कि क्या सरकार पी’ड़ित परिवारों को मुआवजा देने के लिए कोई प्रावधान बनाएगी. गौरतलब है कि वि’पक्ष पहले ही सीएए-एनआरसी के खि’लाफ हो रहे दं’गों से निपटने में सरकार की विफ’लता पर लगातार सवाल खड़े कर रही है.

हालांकि, बता दे कि जिन लोगों की मौ’त हुई है, उनके परिवारवालों का कहना है कि उनकी मौ’त हिं’सा में फं’सने के चलते हुई थी और वे लोग दो’षी नहीं थे. सपा के नेता राकेश प्रताप को जवाब देते हुए योगी ने साफ कर दिया कि किसी भी दं’गा करने वाले को मुआवजा नही दिया जायेगा.