स्वास्थकर्मियों के साथ मा’रपी’ट के बाद योगी के तेवर हुए स’ख्त,कहा अगर आगे कुछ ऐसा हुआ तो दो’षि’यों पर लगेगा ये एक्ट…

2181

आज को’रोना जैसी म’हामा’री ने पूरे देश को झ’कझो’र के रख दिया है. आज को’रोना जैसी म’हामा’री की चपेट में  कई देश आ चुके हैं और इस भ’यान’क बिमारी से लड़ भी रहे हैं. भारत सरकार के साथ-साथ प्रदेश सरकार ने भी को’रो’ना को रोकने का हर भ’रस’क प्रयास कर रही है. देश में जिस हिसाब से को’रो’ना फैल रहा है. उसको रोकने की जगह लोग यहां राजनिती करते हुए नज़र आ रहे है. वहीं कुछ लोग को लगता है कि को’रो’ना हमको नही होगा तो हम सड़क पर आराम से घुम-फिर सकते है. कुछ ऐसे ही हालात देश की राजधानी दिल्ली से सामने आये हैं. दिल्ली के निजामुद्दीन म’रकज के अदंर से हजारो तबलीगी जमात के लोग एक साथ दिखे. इससे इनकी जाहिलियत साफ नज़र आ रही है और इन लोगों ने पीएम मोदी के लॉकडाउन का पूरी तरह से मज़ाक बना डाला है.

दूसरी तरफ यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पूरी तरह से फ्रंटफुट पर आकर कोरोना के खिलाफ ता’बड’तो’ड़ बैल्लेबाजी करते हुए नज़र आ रहे है. जो लोग भी कोरोना के खि’लाफ सरकार के फैसले की अंदेखी कर रहे है. उनके उनके खि’लाफ क’ड़ी का’र्यवा’ई की जा रही है. कल की बात करें तो मध्य प्रदेश में कोरोना की टेस्टिंग करने गये डॉक्टर पर लोगों ने मॉ’ब लिं’चिंग करने की कोशिश की थी. लेकिन भगवान का शुक्र है कि डॉक्टर किसी तरह अपनी जा’न बचाकर भाग निकले. ये सब देखकर बड़ी तक’लीफ होती है. कोरोना जैसी महामारी से बचाने के लिए लोग उनके घऱ गये थे. ताकि जांच कर सके और उनका इलाज किया जा सके. लेकिन इन जाहिलों का कुछ नही हो सकता है.

मध्य प्रदेश की कल वाली घ’टना को देखने के बाद यूपी के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने एलान किया कि अगर ऐसा कुछ यूपी के अंदर हुआ तो खै’र नही है. योगी आदित्यनाथ ने यह फैसला तब लिया जब कल पश्चिम यूपी के कुछ जिलों में पुलिसकर्मियों और स्वास्थ्यकर्मियों से हुई मा’रपी’ट की घ’टना सामने आई. शुक्रवार को अलीगढ और इससे पहले 1 अप्रैल को यूपी के मुजफ्फरनगर जिले में लॉकडाउन के दौरान घर से बाहर निकलने के लिए मना करने पर कुछ लोगों ने पुलिसकर्मियों पर ह’मला किया था. ऐसे में मुख्यमंत्री योगी ने अधिकारियों को आदेश दिया है कि प्रदेश में किसी भी स्थान पर पुलिसकर्मियों से मा’रपी’ट करने वाले लोगों पर ‘एनएसए’ के तहत का’र्रवा’ई की जाए और कोई भी बख्शा नही जायेगा.

सूत्रों की मानें तो सीएम योगी ने गाजियाबाद के अंदर जब तब’लीगी जमा’त के लोगों द्वारा स्वास्थकर्मी से बद’सलू’की किए जाने की घट’ना सामने आने के बाद योगी ने कड़ी कार्र’वाई के आदेश भी दिए हैं. क्योंकि एक कहावत है कि “लातो के भूत बातों से नही मानते है.”यही एक कारण है कि इनके साथ ऐसा ही सलूक किया जाना चाहिए. जिन्होने को’रोना को भी धर्म से जोड़ दिया है. इनकी इस जाहिल पने पर तरस आता है. मैं तो यही कहुंगा कि इनके मौलवी लोग अपनी जमात को समझा दें तो ज्यादा अच्छा होगा. वरना को’रोना किसी धर्म को देख के नही होता है. कोरोना के बचाव के लिए लोगों को घर के अंदर रहेना चाहिए और ये तुच्छ हरकत करना छोड़ दे इसमे इनकी भलाई है.