योगी आदित्यनाथ का ये रूप नहीं देखा होगा आपने, डीएम को लगाई ऐसे फटकार कि डर कर डीएम ने…

570

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री एक सख्त प्रशासक है. कई मौकों पर उनकी सख्ती देखने को मिली है लेकिन आज नोएडा दौरे के दौरान उनका जो रूप दिखा, उसे देख अफसरों के होश फाख्ता हो गए. दिल्ली से सटे नोएडा में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या सबसे ज्यादा है. ऐसे में योगी आदित्यनाथ सोमवार को नोएडा पहुंचे और बैठक के दौरान उन्होंने कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोकने में लापरवाही बरतने पर अधिकारियों की जमकर क्लास ली.

योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों पर भड़कते हुए कहा कि आप काम कम करते हैं और शोर ज्यादा करते हैं. उन्होंने प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को खूब सुनाया. साथ ही जिम्मेदार लोगों पर कार्रवाई करने के संकेत दे दिए. मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार की ओर से दो महीने पहले कंट्रोल रूम बनाने के लिए निर्देश दिए गए थे, लेकिन कोई ध्यान नहीं दिया गया. नोएडा की जिस कंपनी की वजह से कोरोना के मामले ज्यादा बढ़े उस पर भी कार्रवाई को लेकर फटकार लगाई. योगी आदित्यनाथ के गुस्से के बाद नोएडा के डीएम बीएन सिंह ने कहा कि वह गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी नहीं रहना चाहते हैं, उन्हें छुट्टी दे दी जाए.

मुख्यमंत्री ने डीएम को हड़काते हुए कहा, ‘आपकी आदत बहुत खराब है, काम करते नहीं हैं, लेकिन आवाज बहुत ज्यादा निकालते हैं. दो महीने से क्या कर रहे थे आप लोग? कंट्रोल रूप के लिए तो मैंने बहुत पहले ही कहा था। अब तक कंट्रोल रूप क्यों नहीं शुरू हुआ है यहां पर?’

इसके बाद नोएडा के डीएम ने तीन महीने की छुट्टी मांगी. उन्होंने एक पत्र जारी कर कहा, ‘मैं निजी कारणों से जिलाधिकारी गौतमबुद्धनगर के पद पर नहीं रहना चाहता हूं. जिलाधिकारी के पदीय दायित्वों से मुक्त करते हुए 3 माह का अवकाश स्वीकृत करने का कष्ट करें. वर्तमान में कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए किसी भी प्रकार की प्रशासनिक शिथिलता न हो इसके लिए जरूरी है कि गौतमबुद्ध नगर में किसी अन्य अधिकारी की तैनाती की जाए.’