कोरोना के खतरे को देखते हुए योगी सरकार ने गरीबों और दिहाड़ी मजदूरों के लिए किया बड़ा ऐलान

9727

कोरोना के कारण लगभग पूरे भारत में लॉकडाउन की स्थिति है. स्कूल-कॉलेज और सिनेमाहॉल बंद हैं. बाजारों में भीड़ न के बराबर है. ऑफिस वाले तो वर्क फ्रॉम होम कर रहे हैं लेकिन सबसे ज्यादा दिक्कत उन्हें हैं जो दिहाड़ी मजदूर हैं, जो वर्क फ्रॉम होम नहीं कर सकते. ऐसे में योगी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है.

योगी सरकार ने कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए गरीबोब को आर्थिक मदद देने का फैसला किया है. इसके लिए गरीबों के अकाउंट में एक निश्चित रकम ट्रांसफर की जायेगी ताकि उनका खर्चा चल सके. योगी सरकार में मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा कि एक कमेटी का गठन किया गया है, जो कि राज्य में गरीबों को आर्थिक मदद पहुंचाने का काम करेगी. ये पैसा सीधे गरीबों के खाते में RTGS के जरिए डाल दिया जाएगा. इसके अलावा कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों से इलाज के भी पैसे नहीं लिए जायेंगे.

योगी सरकार के इस फैसले से उन गरीब परिवारों को राहत मिलेगी जो दिहाड़ी मजदूर हैं और जिन्हें पैसे कमाने के लिए मजदूरी करनी पड़ती है. इसके अलावा योगी सरकार ने कई और घोषणाएं भी की. योगी सरकार ने ऐलान किया है कि यूपी में किसी को धरना प्रदर्शन की इजाजत नहीं दी जायेगी. राज्य में सभी तरह की परीक्षाओं को रद्द किया गया है. प्राइवेट सेक्टरों से भी अपील की गई है कि वो वर्क फॉर होम को तवज्जो दें.