सीएम योगी के पिता के निधन के बाद यहाँ भी दी गयी भावभीनी श्रद्धांजलि

177

उत्तर प्रदेश के धाकड़ और तेज तर्रार छवि वाले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जिनको लोग उनके कड़े फैसले के लिए जानते हैं. कल का दिन उनके लिए एक बुरी खबर लेकर आया था. योगी कल लखनऊ में मीटिंग ले रहे थे. उस वक़्त उनके करीबी माने जाने वाले शख्स बल्लू राय ने उनको एक खबर सुनाई जिसे योगी आदित्यनाथ पूरी तरह से सुनने के बाद स्तब्ध रह गए.  

कल सुबह योगी के पिता आनंद सिंग बिष्ट ने इस दुनिया को अ’लविदा कह दिया. उनके पिता ने कल सुबह दिल्ली के AIIMS  में आखिरी सांस ली. ये सुनने के बाद योगी की आँखों में आसू आ गए लेकिन उन्होंने अपना राजधर्म निभाते हुए प्रदेशवासियों और लॉक डाउन को देखते हुए अपने पिता के अं’तिम दर्शन के लिए नहीं गए.

योगी के पिता जिस गाँव में रहते थे वहां पर मा’तम छ गया. कुछ ऐसा ही गोरखपुर में गोरक्षपीठाधीश्वर व यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट के न रहने की खबर सुनने के बाद वहां पर शो’क की लहर दौड़ गई. यह सूचना मिलने के बाद मंगलवार को गोरखनाथ मंदिर में एक शोक सभा का आयोजन किया गया.

इसमें कार्यालय सचिव द्वारिका तिवारी ने शोक संदेश पढ़कर उपस्थित सभी नाथ संप्रदाय के योगी, साधु, संत, धर्माचार्य एवं कर्मचारियों को सुनाया और दो मिनट का मौन रखा गया. द्वारिका तिवारी ने बताया कि दिसंबर 1994 में महाराज जी (सीएम योगी) के पिता गोरखपुर गोरखनाथ मंदिर में पधारे थे. उस समय हम सभी लोगों से उनकी भेंट मुलाकात हुई थी.

गोरखपुर मंदिर में मौजूद सभी लोगों ने योगी आदित्यनाथ के पिता के लिए उनकी आत्मा को शांति मिले और भगवान उनके परिवार को इस वि’पदा से बाहर निकलने की हिम्मत दें. उनकी इस शो’क सभा में मंदिर के सभी पुजारी वहां पर उपस्थित थे.