केंद्र सरकार के बाद योगी सरकार ने जारी किया फरमान, कहा 30 मई तक नहीं होगी….

13304

उत्तर प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ लॉक डाउन को खोलने के मूड में नही दिख रहे हैं. उनका ये कहना है कि लॉक डाउन 3 मई के बाद भी ऐसे ही लागू रहेगा. मई के महीने में रमजान, ईद और बड़ा मंगल जैसे त्योहार को मद्देनजर रखते हुए राजधानी लखनऊ में सख्ती को 30 मई तक बढ़ा दिया गया है और यूपी के जो बाकि प्रदेश हैं वहन भी सख्ती बरकरार रहेएगी.

 ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर (लॉ एंड ऑर्डर) नवीन अरोड़ा की ओर से इस संबंध में एक नया आदेश जारी किया गया है. इसके अनुसार, राजधानी लखनऊ में लगी धारा 144 को 30 मई तक बढ़ा दी  गई है. देश में चल रहे लॉकडाउन और इस दौरान ही रमजान, ईद व बड़ा मंगल जैसे त्योहार को देखते हुए 144 के कुछ प्रावधानों को सख़्त भी किया गया है. इस दौरान मांस और शराब की बिक्री भी प्र’तिबं’धित रहेगी.

नई गाइडलाइन के मुताबिक, इस दौरान रात 10  बजे से सुबह 6 बजे तक लाउडस्पीकर के इस्तेमाल पर रोक जारी रहेगी. किसी भी तरह के सामूहिक धार्मिक आयोजनों पर रोक रहेगी. टेंट लगाकर प्रसाद बांटने, किसी भी तरह से सामाजिक, राजनीतिक, सांस्कृतिक, धार्मिक और खेल संबंधी जुलूस निकालना भी प्रति’बं’धित रहेगा. व्यापारिक प्रदर्शनी और रैली जैसे कार्यक्रम भी पूरी तरह से प्रति’बं’धित रहेंगे.

इसके अलावा 30 मई तक पड़ने वाले त्योहारों में मांस बेचने, पशुओं की कटाई, शराब बेचने और इसे लाने व ले जाने पर भी प्रतिबंध जारी रहेगा. कोई भी व्यक्ति धर्म ग्रंथों का अपमान नहीं करेगा, धार्मिक स्थानों, दीवारों पर किसी प्रकार के धार्मिक झंडे, बैनर, पोस्टर आदि लगाने की इजाजत नहीं होगी. यदि कोई ऐसा कार्य करता है या सहयोग करता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई होगी.

इसके अलावा कोई भी व्यक्ति मौखिक, लिखित, प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, सोशल मीडिया के माध्यम से अफवाह फैलाता है या किसी दूसरे समुदाय की धार्मिक भावनाओं को भ’ड़का’ता है या भड़काऊ भाषण देता है या ऐसे किसी कार्यक्रम की घोषणा करता है. जिससे प्रदेश के अंदर किसी भी तरह कुछ गलत होता हैं तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.