पीएम मोदी ने किया लॉकडाउन बढाने का ऐलान तो योगी आदित्यनाथ का आया रिएक्शन, कहा…

1465

कोरो’ना महा’मारी के बढ़ते मामलों को देखते हुए देश में पहले से जारी लॉकडाउन की अवधि को तीन मई तक के लिए बढ़ा दिया गया हैं. मोदी द्वारा आज ऐलान किया गया हैं लेकिन उससे पहले लॉकडाउन की अवधि को कई राज्यों ने पहले ही बढ़ाने का ऐलान कर दिया था. इसी बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी अदियानाथ ने मोदी के इस फैसले का स्वागत किया हैं.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री के फैसले का स्वागत करते हुए उन्होंने कहा कि यह ‘भारत की 130 करोड़ जनता के उत्तम स्वास्थ्य व सुरक्षित भविष्य के लिए उठाया गया महत्वपूर्ण कदम है. इसे हम पूरी मजबूती के साथ लागू करेंगे.’ यूपी के मुखिया योगी ने कहा कि उत्तर प्रदेश की ‘पूरी सरकार, प्रशासन, हजारों स्वयंसेवी संगठन व संस्थायें 23 करोड़ जनता की सेवा में दिन-रात लगकर कोरो’ना को परास्त कर देगी.’

पीएम मोदी ने आज लॉकडाउन की मि’याद को बढ़ा दिया है. ये अवधि बढ़ाने में किसी के लिए नई बात नहीं थी क्योकि ये कयास पहले से लग रहे थी कि लॉकडाउन बढ़ाया ही जायेगा और वही हुआ भी आज. हालांकि बहुत से लोग इस बात से हैरान हैं कि प्रधानमंत्री मोदी ने आखिर 19 दिनों का लॉकडाउन किस हिसाब से लागू किया है. ये न एक हफ्ते का है, न दो हफ्ते का और न ही महीने के खत्म होने का दिन ही है. सभी इस बात से हैरान हैं कि 30 अप्रैल के बजाए तीन मई तक लॉकडाउन क्यों बढ़ाया गया हैं.

हम आपको बताते हैं कि ये लॉक डाउन 19 दिनों के लिए ही क्यों बढ़ाया गया हैं. उसका कारण ये है कि कोरो’ना वा’यरस का पता 14 दिनों तक पता चल जाता हैं. किसी को नहीं पता चलता है तो वो उसके लिए एक दो दिन और लग जाते हैं. यही कारण है कि मोदी ने 19 दिनों के लिए लॉक डाउन को बढ़ाने के फैसला किया था. कुछ लोगों का मानना है कि केंद्र सरकार लॉक डाउन को 30 अप्रैल तक बढ़ाना चाहती थी. लेकिन रज्य सर्कार का कहना था कि 1 मई को मजदूर दिवस की छुट्टी है और 2 को शनिवार और 3 मई को रविवार हैं वीकेंड तो इस वजह से भी इसको 3 मई तक बढ़ा दिया गया है.