उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ अपने काम के लिए जाने जाते है. योगी के आने के बाद प्रदेश की हालत में काफी सुधार आया है. CAA के खि’लाफ हुए प्रद’र्शन में योगी ने दं’गाइ’यों पर पूरी तरह से नके’ल क’स रखी है. यही एक कारण है कि योगी के रहते हुए उत्तर प्रदेश में दं’गा बहुत कम हुआ. योगी ने दं’गा करने वालों के खि’लाफ क’ड़ी कार्य’वाई करी है. उनसे सरकारी सम्पति के नुक’सान कि भर’पाई भी करली है और तो और योगी ने लखनऊ में दं’गा’इयों को लेकर उनके पोस्टर तक लगवा दिए है.

योगी की इतनी द’हश’त है की कोई भी गुं’डा उत्तर प्रदेश के अंदर कुछ भी करने से पहले कई बार सोचता है. इससे साफ़ पता चलता है है कि योगी का खौ’फ़ कितना है दं’गा’इयों के अंदर. योगी आदित्यनाथ को लेकर लोग ऊट पटांग बया’नबाजी करते रहते हैं. इसी बीच कानपूर जिला न्यायालय के एक वकील अब्दुल हन्नान ने योगी के ऊपर एक ट्वीट कर के वि’वा’दों में घिर गए है.

योगी आदित्यनाथ विधानसभा में CAA को लेकर बोल रहे थे.उन्होंने कहा कि जिन्होंने CAA के खि’लाफ दं’गा किया उन सबको स’जा मिलना तय है. बीजेपी के नेता शलभमणि त्रिपाठी ने कहा है कि ‘तुम कागज नहीं दिखाओगे और दं’गा भी फैलाओगे, तो हम ला’ठी भी चलवाएंगे, घरबार भी बिकवायेंगे और हाँ पोस्टर भी लगवाएंगे’. इनके जवाब में अब्दुल हन्नान ने कहा कि ‘योगी आदित्यनाथ आ’तं’कवा’दी हैं.’ 

अब्दुल के इस बयान के बाद तत्काल प्रभाव से पुलिस एक्शन में आ गई और अब्दुल के ऊपर तुरंत दे’शद्रो’ह का मामला भी द’र्ज कर दिया गया है. योगी और केशव प्रसाद मौर्या के ऊपर तब आ’रोप लगे थे. जब योगी ने दं’गा’इयों के पोस्टर चौराहों पर लगाये थे.  तब योगी को कांग्रेस पार्टी ने ‘दं’गा’ई’ बताया था.कांग्रेस हो या फिर वाम’पं’थी संग’ठन के लोग हों इनको देश के प्रति सिर्फ ज़’हर उग’लने के अलावा कुछ भी नहीं आता हैं. इन लोगों का काम है सिर्फ हिन्दू मुस्लिम को ल’ड़ा’ओ और मोदी से लेकर योगी तक की छवि को ख’राब करो. लेकिन अब ऐसा हो पाना मुश्किल है क्योकि जनता को पता है कि कौन क्या कर रहा है.?