यस बैंक को बचाने के लिए मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, कैबिनेट मीटिंग में लिए गए बड़े फैसले

1080

आर्थिक संकट से जूझ रहे प्राइवेट सेक्टर के चौथे बड़े बैंक यस बैंक के ग्राहकों के लिए एक अच्छी खबर है. मोदी सरकार ने यस बैंक को संकट से उबारने के लिए ड्राफ्ट रेजॉल्यूशन स्कीम को मंजूरी दे दी है. RBI ने इस ड्राफ्ट का प्रस्ताव दिया था जिसके अंतर्गत यस बैंक में निवेश करने वाले 49 फीसदी तक हिस्सेदारी खरीद सकते हैं. सरकार के इस फैसले के बाद यस बैंक के शेयर के भाव चढ़ने शुरू हो गए. शेयर बाजार में लोअर सर्किट के वक्‍त यस बैंक के शेयर में 9.58 फीसदी की गिरावट रही और यह 22.65 रुपये के भाव पर आ गया. लेकिन जब मार्केट दोबारा खुला और कैबिनेट ने ड्राफ्ट रेजॉल्यूशन स्कीम को मंजूरी दे दी तो यस बैंक के शेयर का भाव चढ़ते हुए 26 रुपये पर आ गया.

इससे पहले SBI ने गुरुवार को ही कहा था कि वो यस बैंक को आर्थिक संकट से उबारने के लिए 7250 करोड़ रुपए निवेश करेगा और यस बैंक के 725 करोड़ शेयर खरीदेगा. यानी प्रति शेयर भारतीय स्टेट बैंक 10 रुपए निवेश करेगा.

गौरतलब है कि यस बैंक के खस्ता हाल को देखते हुए रिजर्व बैंक ने पैसे निकालने की सीमा को 50 हजार रुपए तक सीमित कर दिया था. हालांकि, शादी, उच्च शिक्षा या किसी मेडिकल इमरजेंसी में अधिक पैसे भी निकालने की इजाजत थी. अब कैबिनेट द्वारा ड्राफ्ट रेजॉल्यूशन स्कीम को मंजूरी देने और SBI के ऐलान के बाद यस बैंक का आर्थिक संकट दूर होने की उम्मीद जताई जा रही है.