कर्नाटक में 6 फरवरी को होगा मंत्रिमंडल का विस्तार, अयोग्य करार दिए गये विधायकों को मिलने वाला है बड़ा तोहफा

596

कर्नाटक में विधानसभा वोटिंग के बाद जमकर सियासी ड्रामा हुआ था, बीजेपी की ज्यादा सीटें आने के बाद कांग्रेस ने जेडीएस के साथ मिलकर सरकार बना ली थी. सबसे बड़ी बात ये थी कि कांग्रेस की जेडीएस से ज्यादा सीटें थी इसके बावजूद भी जेडीएस ने शर्त रखी थी कि वह अपना मुख्यमंत्री बनायेंगे, कांग्रेस ने इस शर्त को मंजूर करते हुए कुमारस्वामी को सीएम बनाया था.

जानकारी के लिए बता दें कुमारस्वामी ने कई महीनों तक कांग्रेस के साथ मिलकर सरकार चलाई लेकिन दोनों पार्टियों के बीच में चली आंतरिक कलेश चलती रही और फिर ये सरकार ज्यादा दिन तक नहीं चल पायी. फिर बीजेपी को कांग्रेस के कुछ विधायकों ने समर्थन करते हुए अपना सीएम चुन लिया था. अब कर्नाटक के सीएम येदियुरप्पा ने उन विधायकों को लेकर बड़ा ऐलान किया है.

येदियुरप्पा ने कहा है कि 6 फरवरी को सुबह साढ़े 10 बजे राज्य मंत्रिमंडल का विस्तार करने का ऐलान किया है. उन्होंने कहा है कि ‘राजभवन में 6 फरवरी को सुबह साढ़े दस बजे शपथ ग्रहण समारोह के साथ मंत्रिमंडल का विस्तार होगा.’

गौरतलब है कि बीजेपी में शामिल हुए कांग्रेस और जेडीएस के 10 विधायकों समेत 13 विधायक शपथ ग्रहण करेंगे. दरअसल 5 दिसंबर 2019 को हुए उपचुनाव में भाजपा ने सर्वाधिक सीटें जीतने और विधानसभा में बहुमत हासिल कर लिया था. जिसके बाद करीब दो महीने से मंत्रिमंडल के विस्तार की संभावना जताई जा रही थी. अब इस बार पूर्व में अयोग्य करार दिए गये विधायकों को मंत्री पद दिया जायेगा.