मोदी के नाम की टीशर्ट पहनकर लगा रहा था राहुल गांधी के पोस्‍टर, कांग्रेस नेता भड़के

513

राजीनीति है यहाँ अनोखे नज़ारे तो आपको रोज देखने के लिए मिलते ही है लेकिन आजकल लोकसभा चुनावों में हर रोज कुछ ना कुछ नया हो रहा है ,ऐसे में राजस्थान के जयपुर में कल एक अलग ही बात देखे को मिली , या यूँ कहे कांग्रेस मुख्यालय में कांग्रेस के ही कार्यकर्ताओं को एक रोचक नजारा देखने को मिला
हुआ कुछ यूं कि कांग्रेस नेता और इंडियर ओवरसीज कांग्रेस के अध्यक्ष सैम पित्रोदा बुद्धिजीवी वर्ग के साथ बातचीत और प्रेस कांफ्रेंस करने के लिए कांग्रेस मुख्यालय पहुंचे थे, उसी दौरान कांग्रेस कार्यालय में एक मजदूर के पीएम नरेन्द्र मोदी के नाम की टी-शर्ट पहनकर कॉन्ग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी का बैनर लगाते देखा गया,उस टी-शर्ट पर बड़े अक्षरों में योजना के नाम के साथ साथ पीएम नरेन्द्र मोदी का नाम भी लिखा हुआ था. पहले तो इस पर किसी का ध्यान नहीं गया. लेकिन जैसे ही मीडियार्किमयों ने यह नजारा जब अपने कैमरों में कैद करना शुरू किया तो कांग्रेस नेताओं का ध्यान गया और इन मजदूरों को हटाया गया .

अब आप ये सोच रहे होंगे कि उस वर्कर ने क्यों मोदी की नाम की टीशर्ट पहनी हुई थी जब वो कांग्रेस के कार्ययालय में काम कर रहा था.
दरअसल 16 जनवरी, 2018 को बाड़मेर में आयोजित हुआ था ये कार्यक्रम था बाड़मेर रिफाइनरी एवं पेट्रोकेमिकल परियोजना का शुभारंभ, इसी कार्यक्रम के लिए ये टी-शर्ट तैयार करवाई थी जो इन मजदूरों ने राहुल गाँधी का पोस्टर लगाते हुए पहन रखी थी, हो सकता है बाड़मेर में हुए प्रोग्राम का ये वर्कर्स भी हिस्सा हो तो उन्हें ये टीशर्ट मिली हो जो उन्होंने अब पहन रखी हो.
सिर्फ मोदी के नाम कि टी शर्ट पहनने पर वर्कर को उसके काम से हटा दिया , उसमें उसकी क्या गलती है अगर उसने वो टीशर्ट पहने के राहुल गाँधी का पोस्टर लगा दिया..पर ऐसा करने से आपका ही डर मोदी सरकार के खिलाफ झलकने लगा. अगर इतना ही होता तो वो वर्कर ब्रांडेड टी शर्ट पहनता..तो कुछ चीजों को पॉलिटिक्स से उपर उठकर देखने की भी जरूरत होती है, पर यह एक सवाल आरा है मन में कि कांग्रेस अपने स्टार प्रचारक का क्या करेंगे,जो देव्लोपमेंट के नाम पर गुजरात मॉडल का एक्साम्प्ल दे रही थी.
यहाँ हम बात कर रहे है अमीषा पटेल की जिनका वीडियो सोशल मीडिया पर आजकल खूब वायरल हो रहा है.
दरअसल अमीषा रविवार (21 अप्रैल) को गुजरात गयी थी ,वहां वो कॉन्ग्रेस के लोकसभा प्रत्याशी प्रशांत पटेल का प्रचार प्रसार करने पहुची थी । इसी दौरान जब उन्होंने मीडिया से बात चित करते हुए कहा था कि गुजरात इंडिया का एक बहुत ही जरूरी राज्य है। जिस तरह की प्रगति और उन्नति गुजरात में हुई है, वह पूरे देश के लिए एक एक्साम्पल है। ऐसे में अगर हर राज्य ऐसा हो तो भारत जानें कहाँ पहुँच जाए।
अब उनके इस स्टेट मेंट से कांग्रेस को भले ही मिर्ची लगी हो लेकिन क्या करे स्तर प्रचारक को कह भी क्या सकते है .तो वही दूसरी तरफ भाजपा हर चुनावी रैली में गुजरात मॉडल को अपनी एक बहुत बड़ी उपलब्धि बताती है कि विकास देखना है तो गुजरात जाओ.
खैर जयपुर में पांचवें चरण में वोट डाले जाएंगे. पांचवें चरण की वोट‍िंग 6 मई को होगी. 2014 में राजस्‍थान की सभी 25 सीटों पर बीजेपी ने जीत दर्ज की थी..अब इस बार देखते है राजस्थान की जनता किसको चुनती है.