दिल्ली दं’गों के बारे में विकिपीडिया पर जो लिखा गया है उसे पढ़ कर चौंक जायेंगे आप, ‘जय श्री राम का नारा लगाती भीड़…’

761

इंटरनेट पर आपको आपको किसी चीज, किसी घटना या किसी व्यक्ति के बारे में जानकारी लेनी होती है तो आप उसके विकिपीडिया पेज पर जाते हैं. लोग बहुत ही भरोसे के साथ विकिपीडिया पर लिखी बातों पर भरोसा करते हैं.  क्योंकि उसमें सम्बंधित सर्च से जुडी सभी घटनाओं का सिलसिलेवार वर्णन होता है और वो कई सोर्स से वेरीफाईड होता है. लेकिन क्या हो जब विकिपीडिया ही लोगों को गलत जानकारी देने लगे और प्रोपगैंडा फैलाने लगे? विकिपीडिया ने ऐसा ही किया है. दिल्ली दं’गों के बारे में विकिपीडिया पर एक आर्टिकल है और इस आर्टिकल में सारा दोष हिन्दुओं पर मढ़ दिया गया है.

इस आर्टिकल में ये लिखा गया है कि हिन्दुओं द्वारा मुस्लिमों का न’रसं’हार किया गया. हाथों में भगवा झंडे ले कर और जय श्री राम का नारा लगाते हुए हिन्दुओं ने मुसलमानों की संपत्तियों को ज’लाया और मस्जिदों को ध्व’स्त किया और इन सब की शुरुआत हुई भाजपा नेता कपिल मिश्रा के भ’ड़का’ऊ भाषण से.

इस आर्टिकल में लिखा गया है कि दं’गों में बड़ी संख्या में मुसलमानों की संपत्ति ज’लाई गई. कुछ हिन्दुओं को भी नुक’सान हुआ लेकिन मुसलमानों को सबसे ज्यादा नुक’सान हुआ. इस पूरे आर्टिकल में न तो इस बात का जिक्र है कि किस तरह से मुसलमानों ने IB ऑफिसर अंकित शर्मा की ह’त्या कर दी और ना ही इस बात का कोई जिक्र है कि मुस्लिम दं’गाइ’यों ने हेड कांस्टेबल रतन लाल की ह’त्या कर दी. कपिल मिश्रा का जिक्र तो है लेकिन स्वरा भास्कर, RJ सायेमा और कई अन्य लोगों के भ’ड़का’ऊ बयानों का कोई जिक्र नहीं है और ना ही AAP से बर्खास्त ताहिर हुसैन का कोई जिक्र है जिनके घर की छत पर ए’सि’ड, पे’ट्रोल ब’म और प’त्थ’रों का ज़खीरा मिला था. वारिस पठान के 100 करोड़ पर 15 करोड़ भारी वाले भ’ड़का’ऊ बयान को तो लगता है आर्टिकल लिखने वाले ने सुना ही नहीं. इस पूरे आर्टिकल में हिन्दुओं को ख’लना’यक दिखाया गया है.   

विकिपीडिया पर जब भी कोई आर्टिकल लिखा जाता है तो उसे कई सोर्स से वेरीफाई कर के लिखा जाता है. लेकिन इस आर्टिकल को पढने के बाद महसूस होता है कि आर्टिकल लिखने वाले ने रवीश कुमार के प्राइम टाइम को देखा और द वायर, क्विंट, स्क्रॉल और राणा अयूब के कुछ आर्टिकल पढ़ कर विकिपीडिया पर आर्टिकल लिख दिया. ये और कुछ नहीं बल्कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भारत और हिन्दुओं को बदनाम करने की साजिश है.