आखिर चुनाव से अहम् पहले चर्चाओं में क्यों है ये युवा, जमकर हो रही है चर्चा

298

भारत में युवाओं की कमी नही है और ना उनकी प्रतिभा की कमी है. देश आज युवाओं के जोश से भरा हुआ है. राजनीति ऐसा क्षेत्र हैं जहां पर अभी तक युवा आने से बचते रहे हैं लेकिन अब राजनीति में युवाओं की दिलचस्पी बढ़ रही हैं. आज हम जिस युवा की बात कर रहे हैं वो इस समय पूरे देश में चर्चा का विषय बना हुआ हैं. इन युवा का नाम है एल. एस. तेजस्वी सूर्या. तेजस्वी सूर्या को बीजेपी ने बेंगलुरु से अपना उम्मीदवार बनाया है. इनकी उम्र मात्र 28 साल है. पीएम मोदी खुद तेजस्वी की तारीफ कर चुके हैं और उनसे प्रभावित हुए है. बेंगलुरु सीट से बीजेपी की प्रतिष्ठा जुड़ गई है। यहां से भाजपा के दिवंगत नेता अनंत कुमार सांसद थे। यदि तेजस्वी यह चुनाव जीत जाते हैं तो 17वीं लोकसभा में देश के सबसे युवा सांसद होने का रिकॉर्ड उनके नाम दर्ज हो जाएगा…
अब आइये हम आपको बताते हैं कि आखिर कौन हैं तेजस्वी सूर्या?


तेजस्वी सूर्या भाजपा के प्रदेश युवा मोर्चा के मौजूदा महासचिव हैं। वह वकालत के पेशे से जुड़े हैं और कर्नाटक हाईकोर्ट में प्रैक्टिस करते हैं। abvp से छात्र नेता रह चुके हैं और बीजेपी सोशल मीडिया टीम का हिस्सा भी हैं. सूर्या की तारीफ खुद प्रधानमंत्री मोदी ने किया था. पीएम मोदी ने कहा था कि आप तो तेजस्वी अर्थात सूर्य के समान हैं..


तेजस्वी सूर्या अपने विबादित बयानों को लेकर भी खूब सुर्खियाँ बटोरी है. तेजस्वी प्रखर वक्ता और प्रभावी प्रचारकों में भी शामिल हैं। वह पार्टी के लिए कर्नाटक से बाहर पुणे, चेन्नई समेत कई राज्यों में चुनाव प्रचार अभियानों का जिम्मा संभाल चुके हैं। सूर्या दिवंगत अनंत कुमार को अपना राजनीतिक गुरु मानते हैं. सूर्या को अनंत कुमार का करीबी भी माना जाता है. जिस सीट से तेजस्वी सूर्या को टिकट मिला है उसी सीट से अनंत कुमार सांसद थे..
इस सीट को लेकर उम्मीद जताई जा रही थी कि अनंत कुमार की पत्नी यहाँ से चुनाव लड़ सकती हैं लेकिन कई दावेदारों को पीछे छोड़ते हुए तेजस्वी सूर्या टिकट हासिल करने में कामयाब हुए. टिकट मिलने पर खुद सूर्या भी हैरान हो गये उन्होंने सोशल मीडिया पर लिखा कि omg मुझे विश्वास नही हो रहा है. दुनिया के सबसे बड़े डेमोक्रेसी के प्रधानमंत्री और सबसे बड़ी पार्टी के अध्यक्ष एक 28 साल के युवा को एक से चुनाव लड़ने के लिए चुना है. ये सिर्फ बीजेपी में हो सकता है सिर्फ पीएम मोदी के नए इंडिया में.!


वैसे सबसे युवा सांसद का रिकॉर्ड दुष्यंत चौटाला के नाम पर हैं जिन्होंने 16वीं लोकसभा चुनवा के दौरान जीत 26 साल की उम्र में जीत हासिल की थी. वैसे 25 वर्षीय हार्दिक पटेल भी कांग्रेस में शामिल हो चुके हैं, लेकिन उनके चुनाव लड़ने को लेकर अभी तक कोई पक्की खबर नही हैं… इसके अलावा मौसम नूर भी महज 27 साल की उम्र में , अगाथा संगमा 28 साल की उम्र में, सारिका सिंह सारिक सिंह 29 साल की उम्र में और वरुण गांधी 29 साल की उम्र में सांसद बने थे…
वैसे आपसे निवेदन कि जब आप के क्षेत्र में वोटिंग हो तो आप अपने सबसे योग्य उस उम्मीदवार के लिए वोट डालने के लिए जरूर जाएँ जो आपको एक मज़बूत और स्थायी सरकार दे सके..