साउदी अरब के प्रिंस के दौरे से पाकिस्तान और भारत में से किसकी हुई जीत!

261

भारत के दौरे पर सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान आये…. इससे पहले वे पाकिस्तान गये थे.. उनके पाकिस्तान पहुँचने से पहले ही पुलवामा आतंकवादी हमला हुआ था.. जिसके जानकारी मिलते ही सलमान ने अपना दौरा एक दिन के टाल दिया था.. हालाँकि इसके बाद सलमान पकिस्तान पहुंचे जहां पाकिस्तान ने उनके स्वागत में कोई कसर नही छोड़ा… पाकिस्तान के प्रधानमंत्री खुद गाडी को ड्राइव करते हुए पीएम हाउस पहुंचे… इसके बाद सलमान भारत आये.. यहाँ भी उनका स्वागात करने खुद प्रधानमंत्री मोदी पहुंचे थे.. भारत में उनके साथ मीटिंग हुई.. साझा बयान जारी किया लेकिन अब जो सवाल खड़ा किया जा रहा है कि भारत को आखिर मिला क्या? क्या भारत को पाकिस्तान की अपेक्षा ज्यादा फायदा हुआ?
आइये हम आपको बताते हैं कि किस तरह भारत पाकिस्तान से बाजी मारने में कामयाब हो गया है… साउदी के प्रिंस के स्वागत के लिए पाकिस्तान के पीएम इमरान खान महीने भर से तैयारी कर रहे थे तो ऐसे में उन्हें हासिल क्या हुआ?
दरअसल सऊदी अरब भारत में पाकिस्तान से 5 गुना ज्यादा निवेश करेगा. सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने ऐलान किया कि वह भारत में 100 अरब डॉलर का निवेश करेंगे. इसके अलावा दोनों देशों के बीच पांच करार हुए…. वहीँ साउदी अरब ने यह भी कहा है कि साउदी में बंद भारत के 850 कैदियों को रिहा किया जाएगा… आतंकवाद के खिलाफ दोनों देशों ने सहयोग करने का भी वादा किया है… जो पाकिस्तान के लिए झटका है..
आइये जानते हैं भारत और साउदी अरब के बीच हुए पांच करार

  • भारत और सऊदी अरब के बीच ऊर्जा को लेकर करार हुआ है, पर्यटन क्षेत्र में एमओयू पर हस्ताक्षर हुए हैं. द्विपक्षीय कारोबार को बढ़ावा देने के लिए करार, प्रसार भारती और सऊदी अरब के बीच प्रसारण साझा करने का करार, इंटरनेशनल सोलर अलायंस के क्षेत्र में करार
    यहाँ आपको यह भी जानना चाहिए कि साउदी अरब से भारत क्या आयात कर रहा है..साऊदी अरब भारत का चौथा सबसे बड़ा कारोबारी साझेदार है. 2017-18 के दौरान दोनों देशों के बीच 1.95 लाख करोड़ का सालाना कारोबार हो रहा था…
    वहीँ कर्ज में डूब चुके पाकिस्तान में साउदी अरब ने महज 20 अरब डॉलर का निवेश करने की बात कही है.. पाकिस्तान के पास विदेशी मुद्रा महज आठ अरब डॉलर बची है. पाकिस्तान अपने तेल के आयात के बिल भी चुकाने में असमर्थ हो गया है… हालाँकि साउदी बीच बीच में भी पाकिस्तान की मदद करता रहता है..
    आइये देखते हैं साउदी अरब से पाकिस्तान को क्या मिला है…

  • पाकिस्तान को सऊदी अरब सिर्फ 20 अरब डॉलर की मदद देगा, सलमान ने सऊदी की जेलों में बंद 2,000 पाकिस्तानी नागरिकों के तत्काल रिहाई की घोषणा की, पाकिस्तान प्रधानमंत्री इमरान खान प्रोटोकॉल तोड़कर एमबीएस की गाड़ी खुद ही चलाकर अपने आवास तक ले गए थे.
    वहीँ भारत के एक्सपर्ट का कहना है कि साउदी अरब का पाकिस्तान का सहयोग करना उसका अपना ताल्लुक है लेकिन भारत में निवेश करना उसकी अपनी मजबूरी है… अगले 30 साल में तेल के भंडार में कमी आएगी और ज्यादातर कारें इलेक्ट्रिक होंगे. ऐसे में सऊदी अरब का निवेश करना उनके फायदे में हैं क्योंकि इस समय निवेश के लिए भारत से बेहतर कोई देश हो ही नहीं सकता.
    अब आपकी समझ में आ ही गया होगा कि किस तरह भारत साउदी अरब के प्रिंस के इस दौरे से फायदे में ही रहा है.. जबकि पाकिस्तान को शायद इसका एक हिस्सा भी नही मिल सका..