गणतंत्र दिवस के मौके पर किसे कौन सी उपाधि से किया जाएगा सम्मानित ?

936

कल 70वां गणतंत्र दिवस है और इस गणतंत्र दिवस के मौके पर काफी कुछ खास होने वाला है और इसी कड़ी में Army Chief General Bipin Rawat को इस अवसर पर परम विशिष्ट सेवा मेडल यानि की PVSM से नवाजा जाएगा..रावत को राष्ट्र की सेवा के लिए यह सम्मान दिया जा रहा है….

दरअसल, बिपीन रावत भारतीय सेना में अहम योगदान देकर उसे और मजबूत बनाने का काम करते आए है….बता दें कि पिछले कुछ वर्षों में की गईं 2 सर्जिकल स्ट्राइक भी उनके नाम दर्ज हैं….बिपीन रावत को इससे पहले भी कई पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है… बता दें कि साल 2017 में सेनाध्यक्ष जनरल बिपिन रावत को नेपाल की राष्ट्रपति बिद्या देवी भंडारी ने ‘नेपाली सेना के जनरल’ की मानद उपाधि से सम्मानित किया था।

रावत के आलावा 12 कोर के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल अनिल भट्ट को अति विशिष्ट सेवा मेडल से सम्मानित किया जाएगा..अनिल भट्ट के नेतृत्व में सेना ने आतंकियों के खिलाफ कई ऑपरेशन में कामयाबी हासिल की है…इसके अलावा गणतंत्र दिवस के मौके पर भारतीय थल सेना, वायुसेना, नौसेना के अधिकारियों और सैनिकों को गैलेंट्री अवॉर्ड से सम्मानित किया जाएगा….यह सम्मान इनकों केरल में आई भयानक बाढ़ के मद्देनजर नागरिकों को बचाने और उनको सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने के लिए दिया जा रहा है….

वही, गणतंत्र दिवस पर ये पहली बार होगा, जब आतंक की नापाक राह से लौटकर सेना में शामिल होने वाले किसी जवान को देश के इतने बड़े  सम्मान से नवाजा जाएगा…आतंकवाद का रास्ता छोड़ सेना में लांस नायक बने नजीर अहमद जिन्होंने आतंकियों से लड़ते हुए और अपने साथियों को बचाने को लेकर अपनी जान की कुर्बानी दे दी उन्हें अशोक चक्र से नवाजा जाएगा…पहली बार कश्मीर के शहीद जवान को यह सम्मान हासिल हुआ है..

बता दें, कि साल 2004 में नजीर वानी ने आत्मसमर्पण करने के बाद सेना ज्वॉइन की थी. किसी जमाने में सेना के खिलाफ लड़ने वाले नजीर वानी ने आतंकवादियों से लड़ते हुए नवंबर 2018 में अपनी जान वतन पर कुर्बान कर दी थी. नजीर वानी ने एक सैन्य ऑपरेशन में 6 आतंकियों को मार गिराया था….इसलिए उनको ये सम्मान देना भारत की शान को भी बढ़ाता हैं…