आखिर किस ने दी शत्रुघ्न सिन्हा को कांग्रेस में शामिल होने की सलाह

470

ये तो सब लोग जानते है, कि शत्रुघन सिन्हा बीजेपी को छोड़कर कांग्रेस में शामिल होने का ऐलान किया है, पर अभी तक ये कांग्रेस कि तरह से कन्फर्म नहीं हुआ है कि शॉट गन यानि शत्रु घन सिन्हा को उनकी मनचाही सीट यानि पटना साहिब से लोकसभा चुनाव का टिकट मिलेगा या फिर नहीं..वैसे बीजेपी ने पटना साहिब से अपने कदाबर नेता और कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद को टिकट दे दिया है…वैसे बीजेपी के खिलाफ विरोध के  शुर तो शत्रुघन सिन्हा बहुत पहले से ही उठा रहे थे यहाँ तक वो बंगाल में आयोजित महागठबंधन की रैली का भी हिस्सा बने थे…अब एक सवाल यहाँ ये खड़ा होता है कि उनको ये आईडिया किसने दिया था कि आप भाजपा छोड़ कांग्रेस में शामिल हो जाये, उन्होंने अपने एक इंटरव्यू में कहा कि मुझे TMC ,समाजवादी पार्टी और आम आदमी पार्टी (AAP) के नेता चाहते थे कि वह उनकी पार्टी में शामिल हों लेकिन उन्होंने साफ कह दिया था कि सिचुएशन जो भी हो लेकिन चुनाव पटना साहिब से ही लड़ेंगे..इस पर उनके पारिवारिक दोस्त लालू प्रसाद ने उन्हें कांग्रेस में शामिल होने कि सलाह दी, उन्होंने मुझे कहा आप कांगेस में जाईये हम सभी लोग आपके साथ हैं और राजनीतिक रूप से भी साथ बने रहेंगे. ये सब उनकी ही सूझ भूझ और समझौते के तहत हुआ..उसके बाद शॉट गन ने कहा कि  सिचुएशन (परिस्थिति) जो भी हो लेकिन लड़ूंगा पटना साहिब से ही.

आगे उन्होंने कि नरेंद्र मोदी अमित शाह की आलोचना की और कहा कि इससे पहले पार्टी में ‘लोकशाही’ थी और अब ‘तानाशाही’ चल रही है… मैंने पार्टी के बगैर किसी सहयोग के उन्होंने 2014 में पटना साहिब सीट से अपने दम पर जीत हासिल की थी. उनका मानना है कि इस बार वह जीत के लिए ‘पहले के रिकॉर्ड’ को तोड़ सकते हैं..वैसे शत्रुघन सिन्हा को ना तो पार्टी ने निकला है और ना ही उन्होंने खुद पार्टी छोड़ी है.. पर शायद बीजेपी में रहते हुए वो बिहार के cm बनने का खवाव देख रहे थे,पर इस रेस में और भी कई बड़े चेहरे मौजूद है जैसे की नितीश कुमार..पर शायद उनको अपना ये सपना टूटना अच्छा नहीं लगा इसलिए उन्होंने,पहले तो पार्टी के खिलाफ ही विरोध के सुर उठाये,और बाद में विपक्षी पार्टीयों के मंच पर चढ़ कर pm मोदी और अपनी ही पार्टी के खिलाफ तंज कसने लगे..खैर ये तो आने वाले लोक सभा चुनावों में तस्वीर साफ़ हो ही जाएगी कि सत्ता में कौन आयेगा..

वैसे एक अवॉर्ड फंक्शन में पहुंची सोनाक्षी से किसी पिता शत्रुघन कि राजीनीति फेर बदल के बारे में पूछा था तो उन्होंने कहा था कि यह उनकी पसंद की बात है। मुझे लगता है कि अगर आप कहीं खुश नहीं हैं तो आपको बदलाव लाना चाहिए और यही उन्होंने भी किया।’मुझे लगता है कि कांग्रेस से जुड़कर वह ज्यादा अच्छा काम कर पाएंगे और यहां खुदपर किसी का दबाव महसूस नहीं करेंगे।’ सोनाक्षी ने आगे कहा, ‘मेरे पिता शुरुआत से पार्टी (बीजेपी) से जुड़े रहे.लेकिन उन्हें वह इज्जत नहीं दी जो उन्हें मिलनी चाहिए थी। मेरे हिसाब से उन्होंने देर कर दी। यह काफी पहले करना चाहिए था..खैर जितने लोग उतनी बातें पर  चुनाव के बाद देखने वाली बात तो ये होगी कि पार्टी में शॉट गन सिर्फ एक स्टार प्रचारक बन कर रह जायेंगे या उन्हें कोई अहम पद भी मिलेगा..