कोरोना के फैलने को लेकर सामने आई नयी रिपोर्ट, WHO पर लगाये गए गंभीर आरोप

469

कोरोना वायरस का क’हर दुनिया भर में बरस रहा है. जहाँ इस वायरस की वजह से अभी तक लाखों लोगो की मौ’त हो गयी है वही कई लोग अभी भी इस वायरस से संक्र’मित है. जिस वजह से दुनिया भर में हा’हाकार मचा हुआ है. वही दूसरी तरफ चीन पर कोरोना वायरस फै’लाने का आ’रोप है. जिसके कारण चीन और बाकी देशों में त’नावपूर्ण स्थिति बनी हुई है. तो अमेरिकी राष्ट्रपति कई बार WHO के के ऊपर चीन का साथ देने और सच्चा’ई छु’पाने के लिए आ’रोप भी लगा चुके है. जिसके बाद ही अमेरिका ने WHO को दिए जाने वाले फ’ण्ड पर भी रो’क लगा दी है

इसी के बाद एक रिपोर्ट में दा’वा किया गया है कि चीन के राष्ट्रपति शी जिंगपिंग ने 21 जनवरी को WHO के डायरेक्टर जनरल टेड्रोस एडहैनम से व्यक्तिगत तौर पर बातचीत की और उन्हें कोरोना के इंसान से इंसान में फैलने और महा’मारी के रूप में फैलने की खबर को देर से बताने के लिए कहा. दरअसल यह दा’वा जर्मनी की न्यूज मैगजीन Der Spiegel ने देश की फेडरल इंटेलिजेंस सर्विस से मिली जानकारी के आ’धार पर किया है.

वही WHO ने इन सभी दा’वों को ख़ा’रिज करते हुए कहा कि 21 जनवरी को शी जिंगपिंग और टेड्रोस क बीच कोई बात नहीं हुई थी और न ही कभी दोनों की फ़ोन पर बात हुई थी. इसके अलावा WHO का कहना है कि इस तरीके की खबरे कोरोना ख’त्म करने वाले संग’ठन और दुनिया को गुम’राह करने का काम कर रही है.

गौरतलब है अगर रिपोर्ट में किये गए दा’वे सही होते है तो अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के द्वारा लगाये गए सभी आरो’प भी सही साबित होंगे. वही यह एक बहुत बड़ी ला’परवाही होगी WHO की तरफ से जिसका नतीजा आज पूरा विश्व भु’गत रहा है.