वैष्णो देवी का दर्शन करने पहुंचे सिद्धू के सामने ये क्या हो रहा था?

300

लोकसभा चुनाव से अहम् पहले कुछ नेताओं ने दल बदल लिया तो कुछ बदल रहे हैं. ये दलबदलू नेता अपने नए नए सेनापति के सम्मान में बड़ी बड़ी बातें कर रहे हैं .. तारीफों के कसीदे पढ़ रहे हैं लेकिन कुछ नेताओं का दलबदलना लोगों को नही भा रहा है. पाकिस्तान की कई बार तारीफ कर चुके और विवादित नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने बीजेपी को छोड़कर कांग्रेस ज्वाइन कर लिया..लेकिन सिद्धू लोगों के निशाने पर बने हुए हैं. आम जनता को जहाँ भी मौका मिल रहा है नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ नारेबाजी कर रही हैं.
ताजा मामला है जब सिद्धू चुनाव से पहले श्री नगर वैष्णो देवी माता के दर्शन करने पहुंचे थे. यहाँ सिद्धू गये तो थे माँ वैष्णों देवी का आशीर्वाद लेने.. लेकिन यहाँ पहुंचे श्रधालुओं के गुस्से का शिकार हो गये . सोशल मीडिया पर वीडियो सामने आया है जिसमें नवजोत सिंह सिद्धू को कुछ लोग घेर कर खड़े है और वहीं आसपास मौजूद कुछ लोग मोदी मोदी के नारे लगा रहे हैं.


इतना ही नही बताया जा रहा है कि नवजोत सिद्धू के सामने पाकिस्तान मुर्दाबाद के भी नारे लगाये हैं. श्रधालुओं ने नवजोत सिंह सिद्धू से नाराज थे.
एयर स्ट्राइक के बाद सिद्धू के बयान से देश का एक हिस्सा जमकर विरोध किया था. इतना ही सिद्धू अपने बयान के चलते बीजेपी के साथ साथ अपनी ही पार्टी के निशाने पर आ गये थे. जब भारत और पाकिस्तान के बीच युद्ध जैसी स्थिति पैदा हो गयी थी तब पुलवामा हमले पर नवजोत सिंह सिद्धू ने ट्वीट कर कहा था कि ‘सरहदों पर बहुत तनाव है क्या, कुछ पता तो करो चुनाव है क्या. जवानों की शहादत पर सियासत करके इलेक्शन नहीं जीत पाओगे. 40 जवान शहीद हुए, कितने आतंकी मरे? 56 इंच का सीना कहां गया? हालाँकि इसके बाद जब भारतीय सेना ने पाकिस्तान पर एयर स्ट्राइक किया तो इन्ही सिद्धू साहब का कहना था कि पाकिस्तान के साथ बातचीत करना चाहिए. और आतंकी मरे या नही सबूत देश के सामने रखना चाहिए … सिद्धू के इसी बात पर देश की जनता भडक गयी थी और कपिल शर्मा को भी हिदायत दी थी कि उन्हें शो से बाहर करें वरना विरोध का सामना उन्हें भी करना पड़ सकता है.इसके बाद सिद्धू को शो छोड़ना पड़ा था. यहाँ आपको यह भी जानना जरूरी है कि कांग्रेस पार्टी ज्वाइन करने के बाद का पाकिस्तान प्रेम जग गया और देश की भावनाओं की चिंता छोड़कर वे पाकिस्तान के नये प्रधानमंत्री इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में पहुँच गये.. इतना ही नही वे पाकिस्तान के सेना जनरल से भी गले मिले थे जो उस सेना का अध्यक्ष है जो भारतीय सेना को धोखे से मारता है.. सिद्धू अपने पाकिस्तान प्रेम की वजह से सुर्ख़ियों रहते हैं और इस बार उन्हें श्री नगर में लोगों के आक्रोश का सामना करना पड़ा है.


मिशन शक्ति पर भी नवजोत सिंह विवादित बयान देने से बाज नही आये . इस पर उन्होंने लिखा ‘जनता को अंतरिक्ष में मत घुमाओ, ज़मीन पे वापिस लाओ, सही मुद्दों से मत भटकाओ.’
सिद्धू अब बीजेपी के साथ साथ आम लोगों के निशाने पर भी हैं. देश के कई कोने में भी सिद्धू को विरोध का सामना करना पड़ सकता है. हालाँकि लोकसभा चुनाव को लेकर उनकी पत्नी भी टिकट को लेकर काफी परेशान दिख रही हैं. उन्हें अब तक टिकट नही मिला है लगता है कांग्रेस ने सिद्धू परिवार के खिलाफ लोगों के आक्रोश को भांप लिया है. वैसे जिस स्थिति से सिद्धू अभी गुजर रहे हैं, उनका विरोध हो रहा है.उनकी हालात तो ऐसी हो गयी है जैसे “आधी छोड़कर पूरी को धावे, आधी पावे ना पूरी पावे” अब कांग्रेस में सिद्धू आगे किस तरह की राजनीति करते हैं ये देखने वाली बात होगी.