नितिन गडकरी के साथ ये क्या कर रही हैं सुषमा स्वराज? सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है वीडियो

389

पहले चरण के चुनाव के लिए नामाकंन के लिए सोमवार का दिन आखिर दिन था. उम्मीदवारों ने अपना नामाकंन दाखिल कर दिया है. कई बड़े नेताओं समेत कई मंत्रियों ने नामाकंन किया. इसमें मथुरा से सांसद हेमा मालिनी, श्रीनगर से फारुख अबदुल्ला समेत केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी और जनरल बीके सिंह भी नामाकंन करते हुए दिखाई दिए. नागपुर से सांसद नितिन गडकरी मोदी सरकार में उन मंत्रियों में शामिल हैं जिनकी तारीफ पूरे देश में होती हैं. इसमें विपक्ष भी शामिल है…
शुक्रवार को एक रोड शो के बाद अपना नामाकंन दाखिल करने नागपुर पहुंचे नितिन गडकरी जोश में दिखाई दिए. उन्होंने दावा किया है कि वे इस बार 5 लाख से अधिक वोट से जीत हासिल करेंगे! रोड शो किया, नामाकंन भरा, कार्यकर्ताओं से मुलाक़ात की और इसके बाद नितिन गडकरी सीधे दिल्ली पहुंचे जहाँ पार्टी की बैठक में भी शामिल होना था. दिल्ली पहुँचने के बाद हमें यहाँ एक तस्वीर देखने को मिली जो वाकई बेहद दिलचस्प हैं.
दरअसल मीटिंग के लिए दिल्ली पार्टी कार्यालय पहुंचे नितिन गडकरी की मुलाकात विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से हुई. जिनसे मिलकर नितिन गडकरी हाथ जोड़ते दिखाई दिए. इसके बाद नितिन गडकरी ने सुषमा स्वराज के साथ खड़े हुए लेकिन सुषमा स्वराज को लगा कि वे मीडिया के सामने जाने के लिए कह रहे हैं पर नितिन गडकरी अपना सर छुकाकर सुषमा स्वराज के सामने खड़े हो गये और आशीर्वाद माँगा. सुषमा जी ने भी पीठ थपथपाकर नितिन गडकरी को आशीर्वाद दिया. इसके बाद दोनों पार्टी ऑफिस के अंदर चले गये लेकिन इस विडियो में इन दोनों मंत्रियों की सरलता दिखाई दी. कैसे एक केन्द्रीय मंत्री दुसरे केन्द्रीय मंत्री से आशीर्वाद ले रहा है.
हालाँकि सुषमा स्वराज इस बार चुनाव नही लड़ रही हैं. उन्होंने अपने खराब स्वास्थ्य के चलते पार्टी से चुनाव ना लड़वाने की अपील की थी.
सोशल मीडिया पर इस वीडियो को खुद नितिन गडकरी ने शेयर किया और लिखा कि धन्यवाद सुषमा स्वराज जी आपके आशीर्वाद के लिए…


इसके बाद सोशल मीडिया नितिन गडकरी और सुषमा स्वराज की जमकर तारीफ हुई..
सब दोनों की सादगी की तारीफ कर रहे हैं. लवली पिक, संस्कार और बधाई जैसे कमेंट कर रहे हैं…
सुषमा स्वराज विदेश मंत्री हैं और ट्वीटर के जरिये लोगों को तत्काल मदद पहुँचाने को लेकर खासी लोकप्रिय हैं. विदेशों में फंसे भारतीय लोगों को वापस देश लौटने में सुषमा स्वराज ने खूब मदद की है.
वहीँ नितिन गडकरी के पास सड़क एवं परिवहन और गंगा सफाई जैसा महत्वपूर्ण मंत्रालय है. नितिन गडकरी के मंत्रालय की तारीफ विपक्ष द्वारा भी किया जाता है. कहा तो जाता है मोदी सरकार में सबसे ज्यादा काम करने वाला मंत्रालय नितिन गडकरी का है. नितिन गडकरी नागपुर से लोकसभा का चुनाव लड़ रहे हैं. गडकरी की टक्कर कांग्रेस के नानाभाऊ पटोले से होने जा रही हैं.

पूरे देश में चुनावी माहौल से राजनीति उफान पर हैं और सभी नेता अपने-अपने चुनाव प्रचार में व्यस्त हैं. बतौर अध्यक्ष पद राहुल गाँधी का यह पहला लोकसभा चुनाव हैं. इसके साथ ही उनका साथ देने के लिए बहन प्रियंका गाँधी में उनके साथ हैं लेकिन देखने वाली बात हैं कि नतीजे किसके हक़ में आते हैं.