कुम्भ को लेकर सोशल मीडिया पर वायरल इस तस्वीर के पीछे क्या है सच्चाई!

423

प्रयागराज में कुम्भ का बड़े पैमाने पर आयोजन किया गया है. जहां करोडो श्रद्धालु डूबकी लगाने पहुँच रहे हैं. राज्य की योगी और केंद्र सरकार ने मिलकर इस बार के कुम्भ अयोजन को बेहद भव्य बनाया है. लेकिन सबसे बड़ी चुनौती यहाँ आने वाले वालों लोगों की सुरक्षा की थी. क्या योगी सरकार लोगों की सुरक्षा के लिए इंतजाम कर पायी है? क्या कुम्भ में पहुंचने वाले लोग प्रयागराज में सुरक्षित हैं?
इस समय सोशल मीडिया पर कुछ फोटो खूब वायरल हो रहे हैं जिसमें कहा जा रहा है कि ये कोई हॉलीवुड फिल्म का सीन नही है ये अपना कुंभ का सुरक्षा प्रबंध है देखिये कितना हाईटेक तरीके से सुरक्षा है
द नेशनलिस्ट नाम के फेसबुक पेज ने कुछ फोटो शेयर किये हैं जिसमे सुरक्षा में तैनात कुछ ATS के जवान दिख रहे हैं जिनके पास बाइक हैं वही दूसरी तस्वीर में सीसीटीवी के बड़े से कंट्रोल रूम में बैठकर तस्वीरें देख रहे पुलिस के जवान दिख रहे है. तो क्या ये तस्वीर सच हैं? क्या सच में उत्तर प्रदेश सरकार ने कुम्भ में जाने वाले लोगों के इतनी तगड़ी सुरक्षा व्यवस्था तैयार की है.
जब हमने इसकी पड़ताल शुरू की तो पता चला कि जितना हमें इस तस्वीर में दिखाया गया है..सुरक्षा व्यस्था उससे कई गुना अधिक चाक चौबंध हैं. मेले की सुरक्षा के अभेद्द बनाने और विश्व के सबसे बड़े मेले को सफल बनाने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार की ATS यानी एंटी टेररिस्ट स्कोइड टीम ने मेला शुरू होने से पहले ही प्रयागराज में डेरा जमा लिया था. काले ड्रेस में ATS के जवान पूरे मेले के क्षेत्र पर निगरानी किये हुए हैं. जो किसी भी आतंकी घटना की सूचना पर तुरंत पहुंचकर कार्रवाई करने के लिए ट्रेंड हैं. इसके साथ ही उत्तर प्रदेश के करीब बीस हजार जवान कुम्भ सुरक्षा में तैनात है. इन जवानों को आधुनिक हथियारों और सुविधाओं से लैस किया गया है.

सुरक्षा के लिए 44 थाने और 58 पुलिस चौकियां बनायीं गयी है. इसके साथ ही पूरे मेला क्षेत्र में 1000 से अधिक SISI कैमरे और ड्रोन लगाए गये हैं. पुलिस वालों के लिए एटीवी बाइक्स की भी व्यवस्था की गयी है. इसके साथ हाई स्पीड बोट, पॉवर बोट, और इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस का इस्तेमाल पुलिस कर रही है. कुम्भ में इस बार महिला जवानों को भी तैनात किया गया है. काले वर्दी में तैनात ATS की महिला सुरक्षाकर्मी के पलक झपकते हुए दुश्मनों को खत्म करने का साहस रखती हैं.
इन सारी तहकीकात और सोशल मीडिया पर मिले एक वीडियो तो यह साफ़ हो गया है कि वायरल हो रही ये तस्वीर सच है. और उत्तर प्रदेश में आयोजित कुम्भ मेले में सुरक्षा वयवस्था काफी पुख्ता है.


दावा था कि ये कोई हॉलीवुड फिल्म का सीन नही है ये अपना कुंभ का सुरक्षा प्रबंध है देखिये कितना हाईटेक तरीके से सुरक्षा है
पड़ताल में पता चला कि ये दावा सच है.. और कुम्भ में सरकार की तरह से जो सुरक्षा व्यस्व्था की गयी वो किसी फ़िल्मी सीन की तरह ही दिखाई दे रही हैं. चारो तरफ फैले पुलिस वाले,तैनात ATS के जवान, आसमान में मंडराता ड्रोन, और सीसीटीवी कैमरे की मदद से श्रधालुओं की सुरक्षा की जा रही है.