नितिन गडकरी के वीडियो को कांट- छांटकर फेक न्यूज़ फैला रहे हैं विनोद दुआ

582

लश्कर भी तुम्हारा है, सरदार तुम्हारा है, तुम झुठ को सच लिख दो अखबार तुम्हारा है…

कभी आपने सोचा है पत्रकारिता की शुरुआत कैसे हुई होगी ? शायद खबरों को बोलकर, लिखकर या दिखाकर बताने की इंसानी फितरत नें पत्रकारिता को जन्म दिया होगा. खबरे हमे इसलिए बताई या सुनाई जाती है ताकि हम जान सके हमारे आस पास क्या चल रहा है. पहले खबरों में सिर्फ वही बताया जाता था, जो वास्तव में होता था. लेकिन आजकल खबरे पहले मिर्च मसाला लगाकर पकाई जाती है. फिर सजाकर परोसी जाती है.

पोल खोल के इस कड़ी में हम आपको ऐसी ही पकी पकाई खबर के बारे में बताएंगे ताकि आप भी समझ सके पत्रकारिता की आड़ में क्या कुछ हो रहा है. हमारे समाज मे. सबसे पहले इस वीडियो को देखिए.

इस वीडियो में प्रतिष्ठित पत्रकार विनोद दुआ ने बताया नितिन गडकरी नें अपनी सरकार के खिलाफ ही बयान दिया. आपको क्या लगता है नितिन गडकरी ने ऐसा बोला होगा ? जी नही! ये अधूरा सच है. नितिन गडकरी ने असल मे क्या बोला. अब तक तो आपके समझ में आ गया होगा कि नितिन गडकरी ने अपनी सरकार नही बल्कि पूर्ववर्ती upa सरकार के खिलाफ बयान दे रहे है. ऐसे में विनोद दुआ जाने क्यों इसको मोदी को हटाओ और गडकरी को लाओ जैसे थियरी गढ़ रहे है. जाने क्यों जनता को असली खबर नही बल्कि अपने हिसाब से बनाई खबर को जनता को दिखा रहे है. ऐसी खबरों को सच मानने से पहले पड़ताल अवश्य करें.

फर्जी खबरों से बचाने के लिए the चौपाल. com आपके लिए हर रोज ऐसे ही अधूरे सच का पूरा सच आपको दिखाता रहेगा.