शहीद सेना के जवान का वीडियो सोशल मीडिया पर हुआ वायरल, देखकर आप भी करेंगे सैल्यूट!

435

सोशल मीडिया पर इस समय एक विडियो खूब वायरल हो रहा है जिसमें एक बच्ची सेना के बारे में कुछ कह रही हैं. वो कह रही है कि सेना हमारी रक्षा के लिए है नाकि हमें डराने के लिए..आर्मी बुरे अंकल से लड़ने के लिए हैं…. बच्ची की मासूमियत देखकर लोगों को ये विडियो बहुत पसंद आ रहा है. देखते देखते ही ये वीडियो कुछ ही समय में सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है. शायद आप तक भी पहुंचा हो लेकिन क्या आप जानते हैं कि कौन है ये बच्ची? उसे यह सब किसने बताया है? उसके पापा कौन है?
आपको बता दें कि सेना के शहीद मेजर अक्षय गिरीश, जो कि 29 नवंबर, 2016 को नगरौटा आतंकी हमले में शहीद हो गए थे। इस वीडियो में दिखाई दे रही बच्ची उनकी ही बेटी हैं, जो कहती हुई सुनाई दे रही है कि आर्मी बुरे अंकल से लड़ने के लिए है. शहीद की मां मेघना गिरीश ने मेजर की बेटी नैना का यह वीडियो अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर ट्वीट किया है..


इस वीडियो में जिस मासूमियत से नैना अपनी बात कहती नजर आ रही हैं वही लोगों को पसंद आ रहा है. और लोग सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए तारीफ कर रहे हैं. साल 2016 में 3-4 आतंकियों ने पुलिस की वर्दी में सेना के नगरौटा स्थित कैंप पर हमला किया था। इस हमले में 2 आर्मी मेजर समेत सेना के 7 जवान शहीद हो गए थे। इसी हमले में नैना के पिता मेजर अक्षय गिरीश भी शहीद हो गए थे।

मेजर गिरीश की बेटी नैना का वीडियो मेजर की माँ ने ही शेयर किया था. जिसमे नैना अपनी माँ से ये सब बातें करती दिख रही हैं..वीडियो देखकर लोग नैना को सलाम कर रहे है. सोशल मीडिया पर वीडियो देखने के बाद लोगों ने कुछ इस तरह की प्रतिक्रियाएं दी हैं
एक यूजर ने नैना के वीडियो पर ट्वीट करते हुए लिखा कि नैना बहुत प्यारी है!!! इतनी कम उम्र में भी उसकी सोच में कितनी सच्चाई है। उसके पिता ने उसे जो बताया, वह सब उसे याद है। भगवान बच्ची पर आशीर्वाद बनाए रखें।
एक अन्य ने लिखा कि बच्ची आप आम से खास बन गई हो. सदा ये देश आपके पापा का ऋणी रहेगा. परमपिता का आशीष आप पर और आपके माता पर बना रहे.
कश्मीर में हुए आतंकी हमले में कई जवान शहीद हुए… उनके शहादत की खबर सुनकर पूरा देश ग़मगीन हो गया… देश में पाकिस्तान विरोधी नारे लगे… शहीदों की अतिम यात्रा में हजारों की भीड़ इकट्ठी हुई… बड़े बड़े नेता, मंत्री अधिकारी शहीदों के सम्मान में अंतिम यात्रा में पहुंचे. इससे साफ़ होता है कि पूरा देश शहीदों के परिवारवालों के साथ में खड़ा है… आर्थिक रूप से सहायता पहुँचाने के लिए देश ने अपनी तिजोरी खोल दी है. अलग अलग एप्प के जरिये देश के लाखो लोगों ने आर्थिक रूप से मज़बूत करने में कोई कसर नही छोड़ रहा है…पूरा देश उनके साथ खड़ा है.

भारतीय लोगों द्वारा ऐसे कई एप्प बनायें गये हैं जिसके जरिये आप सीधे तौर पर शहीदों के परिजनों की मदद कर सकते हैं. इस एप्प के जरिये भरतीय लगातार शहीदों की मदद कर रहे हैं.