देश ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में कोरोना वायरस के चलते हाहाकार मचा हुआ है. पूरी दुनिया में लगातार बढ़ रही कोरोना के मरीजों की संख्या ने सभी को हैरान कर दिया है. भारत सरकार भी इससे लड़ने के लिए पूरा प्रयास कर रही है और हर दिन कुछ न कुछ नया काम किया जा रहा है. मंगलवार को संसद भवन में भारतीय जनता पार्टी के संसदीय दल की बैठक हुई जिसमें पीएम मोदी ने सभी सांसदों को कोरोना वायरस के चलते संबोधित करते हुए बड़ा आदेश दिया गया था कि वह अपने-अपने क्षेत्र के लोगों को जागरूक करते रहें.

जानकारी के लिए बता दें कोरोना वायरस के चलते सरकार को एक के बाद एक बड़ा बड़े कदम उठाने पड़ रहे हैं. सरकार अब धीरे धीरे ऐसी जगहों पर भी प्रतिबंध लगाती जा रही है जहाँ हर दिन हजारों की संख्या में भीड़ एकत्रित होती है, जैसे धार्मिक स्थल, धर्मगुरुओं के सत्संग और घूमने की जगहों को बंद किया जा रहा है. ऐसे में अगर आप भी वैष्णो देवी की यात्रा पर जा रहे हैं तो इस समय वहां से बड़ी खबर आ रही है.

कोरोना वायरस संक्रमण के खतरे को देखते हुए जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने बड़ा फैसला लिया है जिसे जानने के बाद भक्तों को झटका लग सकता है. प्रशासन ने बड़ा कदम उठाते हुए आज यानी 18 मार्च से ही वैष्णो देवी मंदिर को बंद करने का फैसला लिया है. जम्मू-कश्मीर सरकार के सूचना और संपर्क विभाग ने एक नोटिफिकेशन जारी कर इस बात की सूचना दी है और माता वैष्णो देवी यात्रा को बंद कर दिया है.

गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर से आने और जाने वाली सभी अंतर्राज्यीय बसों की सेवाओं को भी रोक दिया है. इतना ही नहीं देश के बड़े-बड़े मंदिरों को भी समय बंद करने के आदेश दे दिए गये हैं. तिरुपति बालाजी मंदिर दर्शन भी बंद कर दिए गये हैं. इतना ही कोरोना के डर के चलते शिर्डी में साई मंदिर समेत मुंबई के सिद्धिविनायक मंदिर को भी बंद कर दिया गया है.