यूपी के 25 जिलों में एक साथ नौकरी कर हड़कंप मचाने वाली अनामिका शुक्ला के बारे में हुआ अब एक नया खुलासा

2243

उत्तर प्रदेश में एक साथ 25 जिलों में टीचर की नौकरी कर 1 करोड़ की सैलरी उठाने वाली महिला अनामिका शुक्ला के बारे में अब एक बड़ा खुलासा हुआ है. इस घटना ने पूरे उत्तर प्रदेश में हड़कंप मचा दिया. सरकार से लेकर प्रशासन तक के होश उड़ गए कि उनके नाम के नीचे एक साल तक ये सब होता रहा और किसी को कानोकान खबर तक नहीं हुई. लेकिन अब इस पूरे मामले में एक चौंकाने वाला खुलासा हुआ है.

खुलासा हुआ कि जो महिला 25 जिलों में एक साथ नौकरी करने का कारनामा कर रही थी वो असली अनामिका शुक्ला तो है ही नहीं. ये खुलासा हुआ असली अनामिका शुक्ला के सामने आने के बाद. मंगलवार को असली अनामिका शुक्ला सामने आई. गोंडा में बेसिक शिक्षा अधिकारी के सामने आईं अनामिका शुक्ला नामक महिला ने दावा किया कि वह कहीं नौकरी नहीं कर रही हैं, बल्कि उनके शैक्षिक अभिलेखों का दुरुपयोग कर फर्जीवाड़ा किया गया है. असली अनामिका शुक्ला ने बेसिक शिक्षा अधिकारी के सामने अपने डाक्यूमेंट्स पेश किये और कहा कि उसने कभिकहीं भी नौकरी की ही नहीं. उन्होंने कहा कि 2017 में कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय में विज्ञान शिक्षक के लिए सुलतानपुर, जौनपुर, बस्ती, मिर्जापुर व लखनऊ में आवेदन किया था, लेकिन न तो काउंसिलिंग में हिस्सा लिया और न ही कहीं नौकरी ही कर रही हैं. उन्होंने ये भी कहा कि उनके नाम पर एक बड़ा फर्जीवाड़ा किया गया है.

असली अनामिका शुक्ला ने साल 2012 फैजाबाद जिले की डॉ. राम मनोहर लोहिया अवध यूनिवर्सिटी से बीएससी की परीक्षा फर्स्ट डिविजन से पास की। उसके बाद साल 2014 में बीएड किया था. अनामिका ने साल 2015 में यूपी टीईटी को क्वालीफाई किया था. उसके बाद 2017 में कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय में विज्ञान शिक्षक के लिए सुलतानपुर, जौनपुर, बस्ती, मिर्जापुर व लखनऊ में आवेदन किया था, लेकिन न तो काउंसिलिंग में हिस्सा लिया और न ही कहीं नौकरी ही कर रही हैं.