कुशवाहा का तेजस्वी पर वा’र, कहा 10 वीं फे’ल का ने’तृत्व बदलने पर महाग’ठबंधन छो’ड़ा

76

बिहार में विधानसभा चुना’वों का आगा’ज हो चुका है. चुनाव से पहले सि’यासत जारी है. सभी दलों ने जनता को लु’भाने के लिए चुनावी वा’दे भी करना शुरू कर दिया है. बिहार में विधानसभा चुनावों के चलते सि’यासी गलियारों में हलचल तेज हो चुकी है और नेताओं के द’ल बदल का दौर भी शुरू हो गया है.

वही दूसरी तरफ बिहार विधानसभा चुनावो को देखते हुए रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने भी ऐ’लान कर दिया है कि वो बसपा के साथ ग’ठ’बंधन कर 243 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे. दरअसल महा’गठबंधन में सीट शे’यरिंग से नारा’ज उपेन्द्र कुशवाहा ने महाग’ठबंधन का साथ छो’ड़ दिया है. जिसके बाद यही क’यास लगाये जा रहे थे कि वो दुबा’रा से NDA में वापसी कर सकते है लेकिन उन्होंने बसपा का हाथ था’म लिया है और उन्होंने पटना में आज इसकी औपचा’रिक प्रे’सवा’र्ता में घो’षणा भी कर दी है.

साथ ही उन्होंने ये भी कहा है कि अगर उनकी सरकार बनी तो शिक्षा पर ध्या’न दिया जायेगा. इतना ही नहीं लालू प्रसाद की पंद्रह सालों के शा’सन की बद’हाली का हवा’ला देते हुए उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि उस समय शिक्षा के हा’लात इ’तने ख’राब थे कि उनके बच्चे 10वीं पास नहीं कर सके थे. साथ ही उपेंद्र कुशवाहा ने महाग’ठबंधन छो’ड़ने की वजह बताते हुए कहा कि मैंने कहा था कि नेतृ’त्व में बदलाव किया जाये. 10वीं फेल का ने’तृत्व मुझे बर्दा’श्त नहीं था. इसी लिए अब जो भी गठ्बं’धन में आना चाहता है वो आ सकता है. जाहिर है बिहार में सिया’सी हल’चल ते’ज़ हो गयी है और आ’रोप प्र’त्या’रोप का सिल’सिला भी तेज़ हो चुका है.