महाग’ठबं’धन से ना’ता तो’ड़ उपेंद्र कुशवाहा ने बसपा के साथ ग’ठबं’धन का किया ऐ’लान

63

बिहार विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐला’न हो चुका है, एक अक्टूबर को पहले चरण की अधिसूचना भी चुनाव आयोग की ओर से जारी करने की तैयारी है. फिलहाल बिहार के अंदर राजनीति दिन पर दिन ग’र’मा’ती जा रही है. नेताओं का दल बदलना भी शुरू हो चूका है. बिहार में हर पार्टी में सीट बंटवारे को लेकर खीं’च’ता’न भी अपने चरम पर है. अभी तक सीट शेयरिंग को लेकर किसी भी गठबंधन में बात नहीं बन पाई है.

वही पिछले कई दिनों से क’यास लगाये जा रहे थे कि उपेन्द्र कुशवाहा अपने पुराने दोस्त के साथ हाँथ मिला सकते हैं यानी की एनडीए में शामिल हो सकते है. लेकिन कुशवाह ने NDA का हाथ दा’मने की जगह कुछ ऐसा किया है जिससे सभी चौ’क गए है. दरअसल रालोसपा प्रमुख उपेन्द्र कुशवाहा ने महाग’ठबंध’न से अपना ना’ता तोड़’ने के बाद अब बसपा के साथ ग’ठ’बंधन का किया ऐला’न किया है इसमें जनवादी पार्टी सोश’लि’स्ट पार्टी भी शामिल हुआ है. इतना ही नहीं कुशवाहा ने बसपा के साथ सभी 243 सीटों पर चुनाव लड़’ने का भी ऐ’लान किया. साथ ही उन्होंने चिराग को भी न्यो’ता देते हुए कहा है कि इस गठ’बंधन में जो आना चाहें सबका स्वा’गत है.

इसके अलावा रालोसपा में मची भग’दड़ पर उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा कि हमने अपनी ना’व मं’झधा’र से निकाल ली है, लेकिन जो क’मजोर दिल वाले हैं वो उत’रकर भाग रहे हैं. जाहिर है इससे पहले यही कया’स थे कि महाग’ठबंधन को छोड़’ने के बाद कुशवाह वापस से NDA में शामिल हो सकते है लेकिन उन्होंने NDA का हाथ छोड़ बसपा सुप्री’मो मायावती की पार्टी का दा’मन था’मने का फै’सला किया है. जिसके बाद अब क’ई सवाल उठ रहे है.