राज्यसभा में एनडीए को मिलेगा फ़ायदा और विपक्ष को लग सकता है झटका, घटेगी ताकत

383

केंद्र में बीजेपी की सरकार आने के बाद से पार्टी ने कई बड़े आयाम स्थापित किये हैं. पीएम मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी ने देश के अधिकतर राज्यों में अपनी जीत का परचम लहराकर विपक्ष का सफाया किया है. अब एनडीए एक और बड़ा रिकॉर्ड बना सकती है. एक के बाद एक झटका झेल रहे विपक्ष को अब राज्यसभा में भी झटका लग सकता है.

जानकारी के लिए बता दें इस साल राज्यसभा में विपक्ष की ताकत और कम होने की संभावना जताई जा रही हैं. जी हाँ इस साल राज्यसभा की 68 सीटें खाली होने जा रही हैं. जिनको लेकर चुनाव होने वाले हैं. इस बार विपक्ष को अपनी कुछ सीटें गंवानी पड़ सकती हैं. मिली जानकारी के अनुसार ये भी कहा जा रहा है कि कुछ राज्यों में कांग्रेस की हालत खस्ता होने से राज्यसभा के लिए होने वाले चुनावों में कांग्रेस को अपनी 19 में से 9 सीटें तक गंवानी पड़ सकती हैं.

एक के बाद एक राज्यों में हार झेल रही कांग्रेस का दिल्ली में सूफड़ा साफ़ हो गया. दिल्ली में हुए विधानसभा चुनावों में कांग्रेस अपना खाता तक नहीं खोल पायी. वहीं अब कांग्रेस की तरफ से ज्योतिरादित्य सिंधिया और प्रियंका गाँधी वाड्रा को लेकर अटकलें लगाई जा रही हैं कि उन्हें इस बार राज्यसभा में भेजा जा सकता है. वहीं रणदीप सुरजेवाला जैसे कई अन्य नेताओं को भी कांग्रेस राज्यसभा में लाने का विचार कर रही है.

गौरतलब है कि राज्यसभा को लेकर होने वाले चुनाव में कांग्रेस अपने सहयोगियों की मदद से 9 या उससे एक दो अन्य सीटें ज्यादा जीत सकती है. कांग्रेस को उन राज्यों में ही सीटें मिल सकती हैं जहाँ उसकी सत्ता है बाकि इस बार राज्यसभा में एनडीए को भारी बढ़त मिल सकती है. सूत्रों के अनुसार बताया जा रहा है कि अप्रैल, जून, और नवंबर में 68 रिक्तियों को भरने के लिए चुनाव हो सकता है जिससे विपक्ष की ताकत में इस बार गिरावट आएगी. एनडीए को इस बार उत्तरप्रदेश और उत्तराखंड में भारी फ़ायदा मिल सकता है.