यूपी के भदोही में हिं-सा भ-ड़काने के आ-रोप में योगी सरकार की AIMIM जिलाध्यक्ष सहित कई लोगों पर बड़ी कार्र-वाई

4490

देश की राजधानी दिल्ली में केंद्र सरकार द्वारा लाये गये नागरिकता संशोधन अधिनियम CAA और NRC के वि-रोध में पिछले काफी दिनों से प्रद-र्शन हो रहे हैं. रविवार को इस वि-रोध प्रद-र्शन से एक हिं-सा का रूप ले लिया और भारी मात्रा में लोग सड़कों पर उतरकर उ-त्पात मचाने लगे. सड़कों पर उतरने के बाद लोगों ने जमकर पुलि-स पर पथ-राव और आग-जनी की, जिसके चलते बाकी जगह प्रशासन अल-र्ट हो गया है, हालाँकि दिल्ली में भी भारी फाॅ-र्स को तैनात किया गया है.

जानकारी के लिए बता दें उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहले से ही इस तरह की हिं-सा को लेकर अल-र्ट हैं. सूबे में कोई भी अरा-जक तत्व ऐसा करने की कोशिश कर रहा है तो उसपर तुरंत कार्र-वाई की जा रही है. ऐसा ही यूपी के भदोही में एक बार फिर हुआ है. यूपी प्रशासन ने यूपी के भदोही में CAA को लेकर हुई हिं-सा में 3 लोगों के खिलाफ कड़ी कार्र-वाई की है.

दरअसल यूपी के भदोही में जुमे की नमाज के बाद CAA के वि-रोध में जुलु-स निकालने को लेकर हिं-सा भड़की, जिसके चलते पुलि-स ने मुख्य साजिशकर्ता समेत 39 लोगों को गिर-फ्तार किया. अब पुलि-स ने 3 लोगों को और हिरा-सत में लेते हुए इनके खिलाफ NSA की कार्र-वाई की है. इस कार्र-वाई के लिए एडवाइजरी बोर्ड ने भी स्वीकृति दे दी है. गिर-फ्तार किये गये लोगों में ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम (AIMIM) के जिलाध्यक्ष तनवीर हयात भी शामिल हैं.

गौरतलब है कि किसी भी तरह की हिं-सा भड़कने को लेकर योगी सरकार पहले से ही अलर्ट है. पुलि-स ने बताया है कि आईएमआईएम (AIMIM) के जिलाध्यक्ष तनवीर हयात और उसका यूथ कमेटी का जिलाध्यक्ष ताबिश पूरे मामले का मा-स्टरमा-इंड है. बताया जा रहा है कि तनवीर ने ही लोगों को जु-लुस निकालने के लिए इकट्ठा किया था और कहा था कि जो भी होगा वो देख लेगा. इस मामले में पुलि-स अब तक 15 लोगों को जे-ल भी भेज चुकी है. वहीं 200 अज्ञा-त लोगों के खि-लाफ FIR भी दर्ज की गयी है.