सीएम योगी ने प्रशिक्षु पीसीएस अधिकारियों को बांटे नियुक्ति पत्र, ईमानदारी को लेकर जो कहा वो आपका भी दिल जीत लेगा

248

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार 03 अगस्त 2021 को राज्य लोक सेवा आयोग से चयनित 2019 बैच के प्रशिक्षु पीसीएस अधिकारियों (PCS) को लोक भवन में नियुक्ति पत्र दिया.

बता दें कि सीएम योगी ने अधिकारियों को नियुक्ति पत्र सौंपने के बाद उन्हें संबोधित भी किया. अपने संबोधन में सीएम योगी कहते हैं कि, ‘पहले दिन से ही ईमानदारी, पारदर्शिता और न्याय के संकल्प के साथ आगे बढ़ें. हर व्यक्ति को न्याय मिलना चाहिए.’

सीएम योगी ने अपने संबोधन में आगे कहा कि, जिन्होंने पहले दिन से ही इन संकल्पों पर ध्यान नहीं दिया तो वह भविष्य में खुद के लिए ही समस्या बन जाते हैं. इस समस्या का असर इतना हो जाता है कि उनके खिलाफ शिकायत, जांच, डिमोशन और बर्खास्तगी शुरू हो जाती है. वहीं, जो अच्छा काम करते हैं उनका भविष्य भी अच्छा होता है. वह कलेक्टर, कमिश्नर व सचिव तक पहुंचते हैं.

आपको बता दें कि प्रशिक्षु डिप्टी कलेक्टरों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अलावा उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा, संसदीय कार्य व वित्त मंत्री सुरेश कुमार खन्ना, अपर मुख्य सचिव नियुक्ति एवं कार्मिक डॉ देवेश चतुर्वेदी आदि ने भी संबोधित किया.

बताते चलें कि, सीएम योगी ने नियुक्ति पत्र को लेकर कहा कि, 4.5 लाख लोगों को नियुक्ति पत्र दिया जा चुका है जिसमें एक भी भर्ती पर सवाल नहीं उठें. वहीं, पहले की भर्तियों में सीबीआई जांच होती थी.

यूपी में निवेश को लेकर सीएम योगी आगे कहते हैं कि, एक समय था जब यूपी में कोई निवेश करने नहीं आता था. सरकार ने कड़ी नीति अपनाई और निवेशकों से संवाद करके विश्वास दिलाया जिसका परिणाम यह हुआ कि पहले ही इन्वेस्टर्स समिट में 4.68 लाख करोड़ के निवेश प्रस्ताव आएं जिससे 1.61 करोड़ युवाओं को रोजगार का मौका मिल चुका है.

मालूम हो कि प्रदेश में विधानसभा चुनाव साल 2022 में होने हैं और अभी से ही सीएम योगी का पल्ला भारी नजर आ रहा है. बताते चलें कि, हाल ही में एक सर्वे हुआ जिसमें करीब 43 फ़ीसदी लोगों ने सीएम योगी को उत्तर प्रदेश का बेहतर सीएम बताया.