उन्नाव : क्या थे उन्नाव पीड़िता के आखिरी शब्द, योगी आदित्यनाथ ने क्या कहा?

10741

उन्नाव रेप की पीडिता ने शुक्रवार रात करीब 11 बजकर 40 मिनट पर दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ दिया है. हैदराबाद का कांड अभी पूरी तरह शांत भी नही हुआ था कि उन्नाव में एक रेप पीड़िता पर दरिंदों ने तेल डालकर आग लगा दी. खबर के मुताबिक वो अपनी जान बचाने के लिए एक किमी तक भागती रही. इसके बाद उसे मदद मिली फिर अस्पताल… अस्पताल से इलाज के लिए दिल्ली!

अफ़सोस की बात तो ये है कि इस बच्ची को बचाया नही जा सका. हालाँकि उत्तर प्रदेश पुलिस के मुताबिक़ सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. वहीँ अब बच्ची के ऊपर किये गये हमले और उसके बाद और भी कई इसी तरह की घटना के बाद उत्तर प्रदेश सरकार और प्रशासन पर सवाल खड़े किये जा रहे हैं. हालाँकि दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ने से पहले बच्ची का आखिरी बयान क्या था? उसने डाक्टरों से क्या अपील की थी?

पीड़िता के पास में खड़े अस्पताल के बर्न यूनिट के हेड डॉ. शलभ और चिकित्सा अधीक्षक डॉ. सुनील गुप्ता ने बताया कि उसके मुंह से निकली हुई बातें इतनी ही समझ में आ रहीं थी कि वह जानना चाह रही थी कि वह बच जाएगी न. डॉक्टरों ने बताया कि उसने इशारों में और हल्की आवाज में कहा कि वह मरना नहीं चाहती है. उसने यह भी कहा कि उसके साथ ऐसा करने वाला कोई बचे न. थोड़ी बहुत बात करते करते वह पूरी तरह से निढाल हो गई. पीड़िता को तुरंत वेंटीलेटर पर रखा गया क्योंकि नब्बे फीसदी तक जलने से उसके शरीर में बहुत लिक्विड बह चुका था. डॉक्टर के कहना है तमाम कोशिशों के बाद भी बच्ची को बचाया नही जा सका.

दरअसल बच्ची नब्बे फीसदी जल चुकी थी. जिसे बचा पाना डॉक्टर के लिए एक चुनौती थी. इसी के साथ अब प्रदेश में राजनीति भी चरम पर है. विपक्ष योगी सरकार को घेरने की तैयारी कर चुका है. वहीँ इस पूरे घटनाक्रम पर योगी आदित्यनाथ ने दुःख जताया है. इसके साथ ही योगी आदित्यनाथ ने इस केस को फास्ट ट्रैक कोर्ट में ले जाने की भी बात कही है.

सवाल यही है कि आखिर प्रदेश में अब इतने केस रेप के सामने आ रहे है तो इसको लेकर आखिर कोई ठोस कार्रवाई क्यों नही की जा रही है. जब रेप काण्ड को लेकर पूरे प्रदेश में आक्रोश है तो आखिर इस पर विशेष ध्यान क्यों नही दिया जा रहा है. अब प्रदेश में राजनीति पर गरम हो गयी है. उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव धरने पर बैठ गये और कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा आज उन्नाव जाने का प्रयास करेंगी.