दिल्ली को ज’लाने की तैयारियां पहले से थी, उमर खालिद का भ’ड़का’ऊ वीडियो वायरल

1219

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के भारत दौरे के वक़्त अचानक से दिल्ली में हिं’सा भड़क गई और ये हिं’सा देखते ही देखते सा’म्प्रदा’यिक दं’गे में बदल गए. इस पर सवाल उठे कि ये बहुत बड़ी साजिश है भारत को बदनाम करने की. भारत की सरकार को बदनाम करने की. अब ये आशंका सही साबित होती जा रही है. दं’गे ख़त्म होने के बाद सामने आया कि हिं’सा फैलाने की तैयारी बड़े पैमाने पर की गई थी और जैसे ही ट्रम्प भारत आये हिं’सा शुरू हो गई. अब उमर खालिद का एक भ’ड़का’ऊ वीडियो सामने आया है जिसमे वो ट्रम्प के भारत दौरे के वक़्त लोगों को सड़कों पर उतरने के लिए भड़का रहा है.

अभी तक तो दिल्ली में दं’गों के लिए भाजपा नेता कपिल मिश्रा को जिम्मेदार ठहराया जा रहा था. लेकिन अब उमर खालिद के भड़काऊ वीडियो के सामने आने के बाद ये साफ़ होता जा रहा है कि सब कुछ सुनियोजित था. जो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है वो महाराष्ट्र के यवतमाल का है और 17 फ़रवरी का है. इस वीडियो में उमर खालिद कहता है, ‘जब अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप भारत में होंगे तो हमें सड़क पर उतरना चाहिए. 24 तारीख को ट्रंप आएंगे तो बताएंगे कि हिंदुस्तान की सरकार देश को बांटने की कोशिश कर रही है. महात्मा गांधी के उसूलों की धज्जियां उड़ा रही है. यह बताएंगे कि हिंदुस्‍तान की आवाम हिंदुस्‍तान के हुक्‍मरानों के खिलाफ लड़ रही है. उस दिन हम तमाम लोग सड़कों पर उतरकर आएंगे.’

ठीक वैसा ही हुआ जैसा कि उमर खालिद ने अपने भाषण में कहा था. जैसे ही ट्रम्प अमेरिका से भारत के लिए रवाना हुए वैसे ही महिलायें जाफराबाद की सड़कों पर उतर आयीं और सड़क पर कब्ज़ा कर लिया. उसके बाद नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में हिं’सा भड़क गई जो तब तक जारी रही जब तक ट्रम्प भारत में थे. ट्रम्प का दौरा ख़त्म होते ही सब कुछ शांत हो गया. इन दं’गों में 46 लोगों की मौ’त हो गई जबकि 250 लोग अस्पतालों में भर्ती हैं. बड़े पैमाने पर संपत्तियों को ज’ला’या गया.

ट्रम्प के दौरे के दौरान पूरी अंतर्राष्ट्रीय मीडिया पर ध्यान भारत पर था और इन दं’गों की खूब कवरेज हुई. वामपंथी मीडिया पोर्टलों में इन दं’गों को मुसलमान विरोधी साबित करने के लिए एकतरफा रिपोर्टिंग की और दिखाया कि हिन्दुओं ने मुसलमानों की ह’त्या की और उनके घर ज’ला’ए. जबकि सच्चाई इसके बिलकुल उलट थी. जाफराबाद, चाँदबाग़, मौजपुर, गोकलपूरी मुस्लिम बहुल इलाके थे और यहाँ हिन्दुओं के घर ज’लाए गए और उनकी ह’त्या’एं की गई.