पाकिस्तान के राष्ट्रपति को Twiiter ने जारी कर दिया नोटिस, भड़क गये मंत्री साहब

कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने का राग पाकिस्तान तबसे अलाप रहा है जब से भारत सरकार ने इसे हटाया है. पाकिस्तान दुनिया के सामने इस हटाने के लिए मदद मांग रहा है लेकिन कोई भी देश पाकिस्तान के समर्थन अब तक खड़ा नही हुआ है, सिवाय चीन के! ऐसे में पाकिस्तानी सरकार, प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति, मंत्री और आवाम के पास एक ही रास्ता है वो है झूठ का!

दरअसल पाकिस्तान के जिम्मेदार लोग भी कश्मीर में हालात को बिगाड़ने के लिए फर्जी वीडियो वायरल कर रहे हैं. हालाँकि इनका पर्दाफाश भी किया जा रहा है लेकिन इन्हें कुछ फर्क नही पड़ रहा है. अपनी बेइज्जती करवाने पार तुला पाकिस्तान और अब उसके राष्ट्रपति को शर्मिंदगी उठानी पड़ रही है. दरअसल एक वीडियो शेयर करने की वजह से पाकिस्तान के राष्ट्रपति को ट्वीटर ने एक नोटिस जारी कर दिया है और जवाब माँगा है. इसके बाद पाकिस्तान के नेताओं को मिर्ची लग गयी है.

दरअसल पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने  24 अगस्त को 1.30 सेकेंड का एक वीडियो शेयर किया है. साथ में उन्होंने लिखा कि कश्मीर के यह हालात हैं, इसलिए इस ट्वीट को ज्यादा से ज्यादा रिट्वीट किया जाए.  इस नोटिस को लेकर पाकिस्तान के ह्यूमन राइट्स मिनिस्टर शिरिन मजारी ने ट्वीट किया है. उन्होंने ट्विटर कंपनी पर भेदभाव बरतने का आरोप लगा दिया है. साथ ही उन्होंने कंपनी की तरफ से राष्ट्रपति आरिफ को जारी नोटिस का स्क्रीन शॉट भी शेयर किया है.

कश्मीर के मुद्दे पर अलग थलग पड़े पाकिस्तान के पास अब यही रास्ता बचा है कि वो झूठ का सहारा ले. हालाँकि कश्मीर को लेकर भारत पूरी तरह कमर कस के तैयार खड़ा है. किसी भी अनहोनी के लिए सेना तैयार है. पाकिस्तान की तरफ से युद्ध की धमकी भी दी जा रही है. ऐसे में पाकिस्तान को ये समझना चाहिए जो सेना पाकिस्तान में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक कर चुकी है क्या वो पाकिस्तान के हमले का जवाब देने के लिए तैयार नही होगी! पाकिस्तान झूठ फैलाकर कश्मीर के मसले पर दुनिया से मदद चाहता है लेकिन कोई तैयार नही है और पाकिस्तान इस हरकत से बाज नही आ रहा है तो ट्वीटर ने ही अब कार्रवाई करनी शुरू कर दी है.

Related Articles