एर्दोगान ने दिया इमरान खान को समर्थन, कहा ‘क’श्मीर जितना …’

6771

भारत पा’किस्तान के बीच हमेशा से ही त’नाव बना रहता हैं कभी LOC पर तो कभी, क’श्मीर मु’द्दे पर. पा’किस्तान की ओर से भारत पर ह’मले होते रहते हैं जिसका भारत की तरफ से मुंह तोड़ जवाब दिया जाता रहा हैं. उसके बाद भी पा’किस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आता है. और इसका खा’मि’याजा पा’किस्तान को कई बार भुगतना भी पड़ा हैं. वही बार पा’किस्तान के अलावा भारत के खि’लाफ तु’र्की ने भी अपनी जंग छेड़ दी हैं.

इस बार तु’र्की के राष्ट्रपति रिसेप तैयप एर्दोगान ने क’श्मीर मु’द्दे पर पा’किस्तान को समर्थन देने की बात कहीं हैं. बता दें पा’किस्तानी संसद में सदनों को संबोधित करते हुए एर्दोगान ने कहा कि क’श्मीर में जु’ल्म हो रहा है और वो इस मु’द्दे पर चुप नहीं बैठेंगे. इसी के साथ उन्होंने पा’किस्तान के पीएम इमरान खान को समर्थन देने का वादा भी कर डाला. जिसके बाद से अब तु’र्की के क’श्मीर मु’द्दे पर टांग अड़ाने की वजह से भारत से रि’श्ते ख़राब हो सकते हैं.

एर्दोगान ने अपने पूरे भा’षण में इ’स्ला’म और मु’स’लमान पर जोर दिया. जिसमें उन्होंने अपने भाषण में कहा कि कोई जमीन पर खींची हुई सीमा इ’स्लाम मानने वालों को बांट नहीं सकती. इसी के साथ एर्दोगान ने अमेरिका के  राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर नि’शाना साधते हुए कहा कि मध्य-पूर्व में अमेरिका का पीस प्लान, आ’क्र’मण’कारी नी’यत से भरा हुआ है और जहां भी मु’सल’मान भाई मारे जा रहे हैं वहां सभी मु’स्लि’म देशों को एकजुट होने की आवश्यकता है.

इसी के साथ एर्दोगान ने पा’किस्तान को समर्थन देने और अपना दूसरा घर बताकर इमरान खान को खुश कर दिया. गौरतलव है इसके बाद से तु’र्की अब भारत के नि’शाने पर आ गया हैं जिसकी वजह से भारत और तुर्की के बीच संबंध भी बिगड़ सकते हैं. आपको बता दें एर्दोगान ने अपने भा’षण के दौरान यह भी कहा कि आपका द’र्द मेरा द’र्द है और हमारी दोस्ती प्यार और सम्मान पर के संदेश को देती हैं इसके पहले भी एर्दोगान 2016 में पा’कि’स्तानी संसद में आकर संबोधित कर चुके है.