बोफोर्स का बदला लेने के लिए राहुल गाँधी ने उठाया है राफेल का मुद्दा? पढ़िए ये पूरी रिपोर्ट

1033

मैंने रामू को चोरी करते हुए नही देखा, मेरे पास कोई सबूत भी नही है और दुकानदार भी कह रहा है कि मेरा कुछ भी चोरी नही हुआ. लेकिन मुझे लगता है रामू चोर है तो चोर है.“मुझे लगता है” के आधार पर श्यामू ने ढिंढोरा पीट पीटकर पूरे मोहल्ले को जगा दिया.

राफेल डील पर विवाद जारी है. संसद में इस मुद्दे पर हर रोज जोरदार चर्चा चल रही है . “कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सदन में एक ऑडियो टेप प्ले करने की पेरमिशन मांगकर सदन में सबकों चौका दिया था कांग्रेस के अनुसार इस वीडियो में मनोहर पर्रीकर राफेल विवाद को लेकर कुछ ऐसा कहते सुनाई दे रहे हैं जिससे बवाल मच सकता था. कांग्रेस ने दावा किया था कि इस टेप में रिकॉर्ड की गयी बातचीत गोवा के स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत प्रताप सिंह राणे की है जिसमें वे कह रहे थे कि राफेल मुद्दे से जुडी सभी फाइल मनोहर पर्रीकर के बेडरूम में रखी हुई है. उस दिन सुबह यह टेप जारी हुआ और दोपहर को राहुल गांधी ने संसद में यह मुद्दा भी उठाया था. इसके बाद उन्होंने सदन में इस ऑडियो को पेश करने की परमिशन मांगी, लेकिन जब अरुण जेटली और लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने राहुल गांधी से पूछा कि क्या आप इस ऑडियो की सत्यता की जिम्मेदारी लिखित में लेते हैं तो राहुल गांधी जी पीछे हट गये”.

Source-DNA India

राहुल गांधी ने सदन में बोलते हुए कहा था कि रक्षा मंत्री और मोदी सरकार राफेल की कीमत बताने से इनकार कर रही है लेकिन मैं खुद फ़्रांस के राष्ट्रपति से मिला और मैंने उनसे पुछा कि क्या कोई ऐसा समझौता फ़्रांस और भारत के बीच हुआ है तो फ़्रांस के राष्ट्रपति ने मुझे बताया कि ऐसा कोई समझौता दोनों देशों के बीच में नही हुआ. उन्होंने कहा है कि ये बात आप पूरे हिन्दुस्तान को बता सकते है. वहीं राहुल गाँधी द्वारा कही गयी इन सभी बातों को फ़्रांस के राष्ट्रपति ने खारिज कर दिया..जिससे राहुल गांधी झूठे साबित हो गये. इसके बाद राहूल गांधी की खूब किरकिरी हुई थी.

अब राहुल गांधी ने सदन में कह रहे है कि मेरे पास राफेल विवाद का कोई सबूत नही है लेकिन मुझे लगता है प्रधानमंत्री सीधे तौर पर इसमें मिले हुए हैं. देखिये राहुल गाँधी क्या कह रहे है. राफेल डील को लेकर बिना किसी सबूत के राहुल गांधी चौकीदार चोर है का ढिंढोरा पीट रहे हैं …राहुल गाँधी के लिए राफेल सबसे बड़ा मुद्दा बना हुआ है. इसकी वजह कही यह तो नही कि राहुल गाँधी अपने अब्बा राजीव गाँधी के बोफोर्स घोटाले का बदला लेने की सोच रहे है. इन सवालो के जवाब तो राहुल गांधी खुद ही दे सकते है.

देखिये वीडियो

https://youtu.be/c1xeGoiqZG4

हालाँकि जिस तरह राहुल गाँधी राफेल के मुद्दे पर कई बार झूठ का सहारा ले चुके हैं उससे तो यही लगता है कि वे इस मुद्दे को लेकर लोकसभा चुनाव में भी जा सकते है.अपनी और किरकिरी जरुर करवाएंगे. अब विपक्ष के पास 2019 लोकसभा चुनाव के लिए कोई बड़ा मुद्दा नही है इसलिए शायद राफेल को मुद्दा बनाकर जनता के बीच जाने की कोशिश की जा रही है. ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि राफेल के खिलाफ अभी तक कोई सबूत सामने नही आ पाया.